Connect with us

Mumbai

अब आपको एप्प के ज़रिये BMC को क़ुर्बानी की देंगी होगी जानकरी

Published

on

अब मुंबई के लोगों को बकरीद में बकरी के कुर्बानी के पहले बृहन्मुंबई महानगर पालिका को सूचित करना होगा। जिसके लिए मुंबई मनपा एक नया एप्प  लाने जा रही है। इसी एप्प के जरिए बीएमसी को बकरे की कुर्बानी के बारे में बताना अनिवार्य है। बकरे की कुर्बानी के पहले आपको बीएमसी को एप्प के जरिए  अपना नाम, पता,आधार कार्ड,पैन कार्ड पहचान पत्र का नंबर कुर्बानी की तारीख बताना होगा। आपके लॉगिन करते ही और ये जानकारी देते ही आपको तुरंत खुद बा खुद कुर्बानी की इज़ाज़त मिल जाएगी। बताया जा रहा है कि इस कदम से बीएमसी को साफ़ सफाई में असानी हो जाएगी और उन्हें ये भी जानने में असानी हो की बकरे की कुर्बानी किस समय और किदर दी जा रही है। 

इस ऐप को लॉन्च करने के बाद बीएमसी को बकरीद के दिन कितने बकरे कि कुर्बानी दी गई है, इसकी जानकारी भी मिलती रहेगी। मुंबई में बकरीद के दिन देवनार कत्लखाने में ढाई लाख से भी अधिक बकरे आते है। जहां से लोग खरीदकर अपने घर कुर्बानी के लिए ले जाते है।  पिछले साल एक हॉउसिंग सोसायटी में विवाद के चलते मामला बॉम्बे हाई कोर्ट चला गया था, तब अदालत ने बीएमसी के पास सभी कुर्बानी की जानकरी ना होने पर सवाल किया था। इसके पहले बीएमसी कुर्बानी करने वालों को सिर्फ एक रसीद देती थी, लेकिन उसमे पूरी जानकरी नहीं रहती थी। 

मुंबई देवनार कत्ल खाने के प्रबंधक डॉक्टर योगेश शेट्टे ने बताया कि 21 फरवरी तक एप्प  तैयार हो जायेगा. शेट्टे ने आगे बताया कि इस एप्प में जानकारी भरने के बाद बीएमसी कर्मचारी को ये जानकारी मिल जाएगी कि कब और कहाँ कुर्बानी होने वाली है। जिससे उन्हें वहाँ जाकर साफ़ सफाई भी करने में असानी होगी हालांकि बीएमसी इसे एक सुविधा के तौर पर बता रही है तो वही कुछ लोग ऐसे भी जो कह रहे की इसकी वजह से एक नया विवाद भी पैदा हो सकता है।

 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Bollywood/Fashion

Kareena Kapoor Khan भोपाल से चुनाव लड़ने की खबर पर करीना कपूर खान का आया जवाब मेरा फोकस बस फिल्में हैं

करीना कपूर खान आगामी लोकसभा चुनाव में भोपाल से कांग्रेस पार्टी की उम्मीदवार होने जा रहीं हैं. ये भी कहा गया था कि खुद प्रियंका गाँधी ने करीना को प्रस्ताव भेजा है

Published

on

Kareena-kapoor-Khan-

जहां इस दौर के बॉलीवुड या तो ये कहे कि हिंदी सिनेमा ने बड़ी खूबसूरत फिल्मों से लोगों को नवाज़ा है. वहीं यहां पर अफवाहों का दौर भी काफी गरम चल रहा है. पिछले कुछ समय से तो काफी अफवाह इस फ़िल्मी गलियारे में चल रहीं थीं. इनमे से सबसे बड़ी अफवाह एक खबर के तौर पर कल फैली. जिसमे भोपाल का ज़िक्र था, ना सिर्फ भोपाल का ज़िक्र था बल्कि सैफ अली खान की बेगम करीना कपूर खान का भी ज़िक्र था.

खबर कुछ यूं थीं कि करीना कपूर खान आगामी लोकसभा चुनाव में भोपाल से कांग्रेस पार्टी की उम्मीदवार होने जा रहीं हैं. ये भी कहा गया था कि खुद प्रियंका गाँधी ने करीना को प्रस्ताव भेजा है भोपाल से चुनाव लड़ने के लिए. वो भी इसलिए क्यूंकि वो वहां की बहु हैं क्यूंकि सैफ अली खान भोपाल के ही हैं.

Kareena Kapoor

करीना को वहां से उतारने का मकसद भी बताया गया था कि भाजपा जो कि वहां 1989 से काबिज़ है. भोपाल की बहु आकर उसे वहां से उखाड़ फेकेगी. ये भी रिपोर्ट किया गया था कि मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कमलनाथ खुद करीना कपूर खान को भोपाल से टिकट दे रहें हैं. आपको बता दें कि भोपाल में आज भी पटौदी परिवार की काफी जायदाद है. वहां ये परिवार लोकप्रिय भी काफी है.

भोपाल से खुद सैफ अली खान के पिताजी मंसूर अली खान पटौदी ने 1991 में चुनाव लड़ा था. तब वो बीजेपी के ही सुशील चन्द्र वर्मा से चुनाव हार गये थे. लेकिन इस दौर में सामने हैं करीना कपूर खान जिनका स्टार पॉवर अपने अलग ही शबाब में है. जो काफी हद तक युवाओं को अपनी ओर आकर्षित भी करती हैं.

इसी तरह की एक और अफवाह करीना कपूर के लिए ही उड़ी थी कि वो मुंबई नार्थ से भी चुनाव कांग्रेस के टिकट में ही लड़ सकती हैं. लेकिन इन सब ख़बरों के बीच में आपको बता दें कि करीना कपूर खान का परिवार प्रो भारतीय जनता पार्टी है. उसने इस तरह की ख़बरों को कभी नही स्वीकारा. साथ ही जब अभिनेत्री करीना को इस बारे में पता चला तो उन्होंने बस जोर से हस कर इसे टाल दिया. करीना कपूर के पास के सोर्स ने पीपिंगमून.कॉम से बताया कि इन सब ख़बरों में बिलकुल भी सच्चाई नही है. ये सब कोरी अफवाह बस हैं. इसके सिवा कुछ भी नही.

आपको बता दें कि इस समय अभिनेत्री करण जौहर की फिल्म ‘गुड न्यूज़’ की शूटिंग में व्यस्त हैं. उनके साथ इस फिल्म में अभिनेता के तौर पर अक्षय कुमार नज़र आने वाले हैं.

Continue Reading

Bollywood Crime

वर्सोवा थाने में एक्टर आदित्य पंचोली पर FIR, कार मैकेनिक को जान से मारने की धमकी देने का आरोप

कार मैकेनिक का आरोप है कि ऐक्टर आदित्य पंचोली ने अपनी कार का काम उससे कराया था, जिसका मेहनताना क़रीब ठीक 2 लाख 82 हजार 158 रुपए हुए थे। कार का काम शुरू करने से पहले ही मेकैनिक ने उन्हें ख़र्च बता दिया था। जिस पर आदित्य ने हामी दी थी तब उसने काम शुरू किया था। लेकिन जब कार बन गई तो आदित्य ने पैसे देने इंकार कर दिया।

Published

on

बॉलीवुड ऐक्टर आदित्य पंचोली एक बार फिर विवादों में है। आदित्य पंचोली के खिलाफ मुंबई के वर्सोवा पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। आदित्य पर आरोप है कि उन्होंने एक कार मैकेनिक को जान से मारने की धमकी दी है। शिकायत दर्ज होने के बाद मुंबई पुलिस तफ़तीश में जुट गई है। 

आदित्य पंचोली के खिलाफ मुंबई के वर्सोवा पुलिस स्टेशन में जो एफआईआर दर्ज कराई गई है, उसके मुताबिक़ उन्होंने एक कार मैकेनिक से काम तो कराया लेकिन उसका पैसा नहीं दिया । जब कार ने मैकेनिक ने अपना पैसा माँगा तो ऐक्टर ने उसे जान से मारने तक की धमकी दे डाली।

कार मैकेनिक का आरोप है कि ऐक्टर आदित्य पंचोली ने अपनी कार का काम उससे कराया था, जिसका मेहनताना क़रीब ठीक 2 लाख 82 हजार 158 रुपए हुए थे। कार का काम शुरू करने से पहले ही मेकैनिक ने उन्हें ख़र्च बता दिया था। जिस पर आदित्य ने हामी दी थी तब उसने काम शुरू किया था। लेकिन जब कार बन गई तो आदित्य ने पैसे देने इंकार कर दिया। 

Bमेकैनिक का आरोप है पैसे देने की जगह पंचोली ने मैकेनिक को जान से मारने की धमकी दे डाली। इसके बाद मैकेनिक की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और इसकी जांच में जुट गई है।

Continue Reading

Crime

फिर गुलज़ार होंगे मुंबई में डांस बार, सुप्रीम कोर्ट ने शर्तों के साथ मंजूरी दी

सुप्रीम कोर्ट ने आदेश में कहा है कि बार बालाओं को टिप तो दी जा सकती है। लेकिन उनपर पैसे नहीं लुटाए जा सकते। इसके साथ ही, कोर्ट ने समय सीमा को सही ठहराया है। अदालत ने स्कूल और पूजास्थल से एक किलोमीटर की दूरी में डांस बार के नियम को रदद् कर दिया। बार के भीतर सीसीटीवी की अनिवार्यता के नियम को भी कोर्ट ने स्वीकार नहीं किया। कोर्ट ने कई नियमों में बदलाव किया है।

Published

on

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को एक महत्वपूर्ण फैसले में मुंबई में डांस बार फिर से खोलने की अनुमति दे दी। कोर्ट ने डांस बार को लेकर महाराष्ट्र सरकार के 2016 के प्रावधान को कानूनी रूप से वैध करार दिया है। कोर्ट ने कहा कि डांस बार पर पूर्ण प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता है। नियम हो सकते हैं, लेकिन पूरा प्रतिबंध नहीं होना चाहिए। 2005 से महाराष्ट्र द्वारा कोई लाइसेंस नहीं दिया गया है।

सुप्रीम कोर्ट ने आदेश में कहा है कि बार बालाओं को टिप तो दी जा सकती है। लेकिन उनपर पैसे नहीं लुटाए जा सकते। इसके साथ ही, कोर्ट ने समय सीमा को सही ठहराया है। अदालत ने स्कूल और पूजास्थल से एक किलोमीटर की दूरी में डांस बार के नियम को रदद् कर दिया। बार के भीतर सीसीटीवी की अनिवार्यता के नियम को भी कोर्ट ने स्वीकार नहीं किया। कोर्ट ने कई नियमों में बदलाव किया है।

कोर्ट ने बार और डांसिग एरिया अलग रखने की शर्त खारिज कर दी। कोर्ट में यह भी साफ किया है कि बार में किसी भी तरह का अश्लील डांस नहीं होगा। इंडियन होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन ने राज्य सरकार के नए एक्ट को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा था कि समय के साथ अश्लीलता की परिभाषा भी बदल गई है और ऐसा लग रहा है कि मुंबई में मॉरल पुलिसिंग हो रही है।

डांस बार पर महाराष्ट्र सरकार के नियम-

सीसीटीवी के जरिए डांस बार की लाइव स्ट्रिमिंग नजदीकी पुलिस थाने में की जाएगी।
इसके अलावा, डांस बार में सिर्फ चार लड़कियां ही बारगर्ल के तौर पर काम कर सकेंगीं।
डांस बार में काम करने वाली लड़कियों की उम्र 18 साल से कम नहीं होनी चाहिए।
डांस बार में ग्राहकों और लड़कियों के बीच 2 मीटर की दूरी होनी चाहिए।
नए नियम में डांस बार में ग्राहकों के रुपए उड़ाने और लड़कियों के साथ ठुमके लगाने पर भी रोक लगाने की भी बात है।

Continue Reading

Latest

%d bloggers like this:
Bitnami