What's In The News
Friday, November 2018
Now Reading:
EXCLUSIVE: किशोर कुमार के बंगले को लेकर छिड़ गई है जंग, बंगले पर दो लोगों ने दावा ठोका
Full Article 3 minutes read

EXCLUSIVE: किशोर कुमार के बंगले को लेकर छिड़ गई है जंग, बंगले पर दो लोगों ने दावा ठोका

मशहूर अभिनेता और गायक किशोर कुमार के परिवार के अंदर ही जंग छिड़ी है. मामला मारपीट तक जा पंहुचा है. ये सब हो रहा है उनके पुश्तैनी बंगले को लेकर जिसपर दो लोगों ने एक साथ दावा थोक दिया है. मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में बॉम्बे बाजार स्थित पुराने बंगले पर उनके भतीजे और बेटों ने अपना-अपना हक जताया है. किशोर दा के भतीजे और अनूप कुमार के बेटे अर्जुन कुमार और किशोर कुमार के छोटे बेटे सुमित कुमार आमने सामने हैं. दोनों ही ये दावा कर रहे हैं की “बंगले पर मेरा हक है. मैं ही इसे बेचूंगा”. मामला तो इतना बिगड़ गया की नौबत मारपीट तक जा पहुंची है.

दरअसल मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में बॉम्बे बाजार में किशोर कुमार का एक बांग्ला है. जिस पर दोनों पक्ष पिछले कई सालों से अपना अपना हक़ जाता रहे थे. लेकिन पिछले महीने किशोर के छोटे बेटे सुमित कुछ लोगों के साथ वहां पहुंचे और उसका सौदा करने के लिए मुआइना करने लगे. तभी वहां अर्जुन कुमार भी पहुँच गए और सुमित को ऐसा करने से रोका. इसी बात को लेकर दोनों में हांथा पाई तक हो गई.

जब हमने अर्जुन से समपर्क किया तो उनका कहना है की सुमित या अमित किसी का इस बंगले पर कोई हक़ नहीं है. बॉम्बे बाजार वाली संपत्ति के कागजात उनके नाम से हैंऔर वही नगर निगम और नजूल में सारे टैक्स भरते हैं. ऐसे में सुमित कुमार सौदा करने वाला कौन है? अगर किसी को इस बारे में कुछ पता करना है तो इलाके के लोगों से पूछताछ की जा सकती है.

अर्जुन के मुताबिक वो भी प्रॉपर्टी बेचना नहीं चाहते हैं. लेकिन अब मैं इसकी देखभाल नहीं कर सकता मैं आर्थिक तौर पर इन दिनों काफी परेशान चल रहा हूं और ऐसे में मेरे पास इसे बेचने के अलावा कोई विकल्प नहीं है. इन सालों में कभी भी अमित या सुमित ने किसी तरह का कोई भी टैक्स भरने तक के लिए उनकी एक रूपये की मदद नहीं की है. लेकिन हक़ सब चाहते हैं ऐसा कैसे मुमकिन है.

वहीँ इस बंगले को खरीदने वाले अभय जैन का दावा है कि वह किशोर दा के छोटे वाले बेटे सुमित कुमार को चेक के जरिए 11 लाख रुपए बयाने के रूप में दे चुके हैं. उन्होंने ये प्रॉपर्टी करीब 14 करोड़ रुपए में खरीदने का डील फाइनल किया है.

इस प्रॉपर्टी की कीमत करोड़ों में इस लिए भी है क्योंकि किशोर दा इसी बंगले में जन्मे थे. लेकिन कई सालों में बांग्ला अब खण्डार में तब्दील हो गया है.गेट पर गौरी कुंज और गांगुली हाउस लिखा है. पिछले साल नगर निगम ने इसे जर्जर बताया था।

Input your search keywords and press Enter.
%d bloggers like this:
Bitnami