What's In The News
Sunday, November 2018
Now Reading:
EXCLUSIVE: डार्ट लगते ही बेकाबू हो गयी थी बाघिन अवनी, लोगों ने मिठाई बांटकर मनाया जश्न
Full Article 2 minutes read

EXCLUSIVE: डार्ट लगते ही बेकाबू हो गयी थी बाघिन अवनी, लोगों ने मिठाई बांटकर मनाया जश्न

आदमखोर खूंखार बाघिन अवनि के एनकाउंटर के बाद बड़ा खुलासा सामने आया है. उसे मार गिराने वाले शूटरों का दावा है की अवनि को आखिरी समय में गोली इस लिए मारी गयी, क्यूंकि वो बेकाबू हो गई थी. अवनी को दो महीने की तलाश के बाद मार गिराया गया है. बाघिन अवनी जिसे T1 को कल रात यवतमाल की जंगल में ढेर कर दिया गया. अवनी को मारने में शार्प शूटर नवाब शफत अली के बेटे असगर ने अवनी पर सटीक निशाना लगाते हुए उसे खत्म कर दिया.

 

5 साल की ने पिछले 48 महिनों में 13 लोगों की कथित रुप से अपना शिकार बनाया. इस नरभक्क्षी बाघिन दहशत इतनी थी की गांववालो ने अपने घरों से निकालना बंद कर दिया था. अवनी बाघिन की दहशत के बाद अदालत ने वन विभाग को अवनी को देखते ही गोली मार देना का आदेश दे दिया था. हालाँकि वन्यप्रेमीओं ने इसके खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया और अवनी की हत्या करने के आदेश को रद्द करने की मांग की. पहले मुंबई हायकोर्ट के नागपूर बेंच ने और बाद में सुप्रिम कोर्ट ने भी इस आदेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था.

इस बाघिन की हत्या की ख़बर वायरल होने के साथ ही वन्यप्रेमीयों का गुस्सा सोशल मीडिया पर उमड पडा. अवनी की किलींग पर नाराजगी जताते हुए आम आदमी पार्टी नेता प्रिती मेनन, जो खुद भी वन्यप्रेमी हैं, उन्होने ट्वीटर पर लिखा की, बड़े दुख के साथ बताना पड रहा हैं की, राज्य के वनमंत्री सुधीर मुंगंटीवार ने अवनी की हत्या कर दी हैं. वहीं अन्य दुसरे ट्वीटर युजर्स ने भी इसे दुर्भाग्यपुर्ण बताते हुए संबंधीत वनविभाग के अधिकारीयों पर कार्रवाई की मांग की हैं. अवनी बाघिन के दो छोटे बच्चे हैं, वन विभाग ने इस दोनों बच्चों की तलाश तेज कर दी हैं.

Input your search keywords and press Enter.
%d bloggers like this:
Bitnami