Connect with us

Crime

अहमदनगर के आर्मी कैन्‍टॉनमेंट इलाके से तीन संदिग्धों को हिरासत में लिया गया, पूछताछ जारी

शुक्रवार की सुबह ख़ुफ़िया एजेंसी की एक टीम अहमदनगर के आर्मी कैन्‍टॉनमेंट इलाके से तीन संदिग्धों को हिरासत में लेकर आयी थी. हिरासत में लिए तीनों लोग आर्मी की यूनिफॉर्म पहनकर इलाके में घूम रहे थे. उनके कपडे सेना के जैसे थे और वो बार बार कैंप के पिछले हिस्से में आना जाना कर रहे थे.

Published

on

Attired in military uniform, youth held in Cantt area

महाराष्ट्र के अहमदनगर के भारतीय एजेंसियों ने तीन संदिग्धों को आर्मी के कपड़ों में हिरासत में लिया है. तीनों संदिग्ध आर्मी कैन्‍टॉनमेंट इलाके संदेहास्पद तरीके घूम रहे थे. जिन तीन लोगों से पूछताछ की जा रही है उनमे से दो लोग यूपी के रहने वाले हैं जबकि एक अहमदनगर का रहने वाला है. पूछताछ में इन तीनों ने जो खुलासा किया है उसे सुनकर खुद तफ्तीशकर्ता भी दंग हैं. ये तीनों ठगी है और लोगों से ठगी के मकसद से आर्मी के भेष में घूम रहे थे. आरोपियों ने बताया कि, उन लोगों ने यूपी के रहने वाले दोनों युवकों को आर्मी में नौकरी दिलाने का झांसा दिया था. जब दोनों पैसे लेकर आए तो ये लोग ये दिखाने के लिए आर्मी के भेष में घूम रहे थे की वो भी सेवा में हैं और उनके वेशभूषा से लड़कों को शक न हो. लेकिन इससे पहले की तीनों लड़कों से पैसे ले पाते ख़ुफ़िया एजेंसी उन्हें उठा ले गयी.

पुलिस के मुताबिक, शुक्रवार की सुबह ख़ुफ़िया एजेंसी की एक टीम अहमदनगर के आर्मी कैन्‍टॉनमेंट इलाके से तीन संदिग्धों को हिरासत में लेकर आयी थी. हिरासत में लिए तीनों लोग आर्मी की यूनिफॉर्म पहनकर इलाके में घूम रहे थे. उनके कपडे सेना के जैसे थे और वो बार बार कैंप के पिछले हिस्से में आना जाना कर रहे थे. जिसके बाद उन्हें हिरासत में लिया गया था. अब तक महाराष्‍ट्र पुलिस के इलावा तीनों से एटीएस और अखुफिया एजेंसियों ने तीनों संदिग्धों से पूछताछ की है.जांच में तीनों ने ठगी की जानकारी दी है जिसे वेरिफाई करने की कोशिश की जा रही है. हालाँकि पुलिस फिलहाल उनके पहचान बताने को तैयार नहीं है.

ख़ुफ़िया एजेंसी लगातार सेना के ठिकानों को लेकर इनपुट देती आ रहा है. ये पहले भी खुलासा हो चूका है की कुछ पाकिस्तानी आतंकी संघठन देश के अहम ठिकानों को निशाना बनाने के फ़िराक में है. इसके लिए लगातार उनके स्लीपर सेल ग्राउंड पर काम भी कर रहे हैं. ऐसे में इन तीनों का इस तरह से सेना के कैम्प के पास देखा जाना एजेंसियों के लिए होश उड़ाने वाला था. सूत्र बताते हैं की अब तक की पूछताछ से एजेंसियों को नहीं लगता है की तीनों किसी बड़ी साज़िश के फ़िराक में थे, फिर भी उनके द्वारा दी गयी सारी जानकारी को क्रॉस वेरिफाई किया जा रहा है.

Crime

बदले के लिए नाबालिग लड़की ने किया 2 साल की मासूम का किया कत्ल, अपने कमरे में छुपा राखी थी लाश

पुलिस ने गांव और परिवार के कई लोगों से पूछताछ की, कई पड़ोसियों से भी पूछताछ की। तफ्तीश में उन्हें ये पता चला की बच्ची मनिष्का के माँ का किसी बात को लेकर पड़ोस में रहने वाली 16 वर्षीय छात्रा से कुछ कहा सुनी हुई थी।

Published

on

baby Manishka

मुंबई के पास ठाणे सहर से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहाँ एक 16 साल की एक लड़नी ने एक दो साल की मासूम बच्ची का क़त्ल कर दिया। वो भी सिर्फ इस लिए की उस मासूम की मां ने आरोपी छात्रा को कुछ दिन पहले डांट दिया था। बस क्या था उसकी दिल में बदले की भावना घर कर गई और उसी का बदला लेने के लिए उस लड़की ने कत्ल की इस दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम दे डाला।

वारदात ठाणे के तुलाई गांव की है। आरोपी छात्रा की उम्र सिर्फ 16 साल है और वह दसवीं कक्षा की छात्र है। अब तक जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक, शनिवार को तुलाई गांव में रहने वाली एक 2 साल की बच्ची मनिष्का अपने घर के बाहर खेलते खेलते लापता हो गई। बच्ची को उसके परिवार के साथ साथ पूरे गांववालों ने ढूंढा, लेकिन उसका कोई अता पता नहीं चल पाया। हारकर इसकी खबर पुलिस को दी गई।

तफ्तीश कर रही पुलिस ने गांव और परिवार के कई लोगों से पूछताछ की, कई पड़ोसियों से भी पूछताछ की। तफ्तीश में उन्हें ये पता चला की बच्ची मनिष्का के माँ का किसी बात को लेकर पड़ोस में रहने वाली 16 वर्षीय छात्रा से कुछ कहा सुनी हुई थी। पुलिस को ये अहम लीड लगी और फ़ौरन उस लड़की के घर की तलाशी ली। तब जाकर पुलिस को लड़की के घर के एक कोने में बच्ची की लाश बरामद हो गई।

पुलिस ने फौरन आरोपी लड़की को हिरासत में ले लिया। पूछताछ करने पर आरोपी छात्रा ने खुलासा किया कि, कुछ दिन पहले मनिष्का की मां किसी बात को लेकर उसे डांट दिया था। वो बात उस लड़की को बहुत नागवार गुजरी। तभी उसने अपनी पड़ोसी महिला से बदला लेने का मन बना लिया था। वो मनिष्का को कहीं और ले जाकर मारना चाहती थी, लेकिन उसे मौका नहीं मिल पाया और वो पकड़ी गई। आरोपी लड़की को आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी लड़की को कोर्ट में पेशी करने के बाद बालिका गृह भेजा गया है।

Continue Reading

Bollywood Crime

वर्सोवा थाने में एक्टर आदित्य पंचोली पर FIR, कार मैकेनिक को जान से मारने की धमकी देने का आरोप

कार मैकेनिक का आरोप है कि ऐक्टर आदित्य पंचोली ने अपनी कार का काम उससे कराया था, जिसका मेहनताना क़रीब ठीक 2 लाख 82 हजार 158 रुपए हुए थे। कार का काम शुरू करने से पहले ही मेकैनिक ने उन्हें ख़र्च बता दिया था। जिस पर आदित्य ने हामी दी थी तब उसने काम शुरू किया था। लेकिन जब कार बन गई तो आदित्य ने पैसे देने इंकार कर दिया।

Published

on

बॉलीवुड ऐक्टर आदित्य पंचोली एक बार फिर विवादों में है। आदित्य पंचोली के खिलाफ मुंबई के वर्सोवा पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। आदित्य पर आरोप है कि उन्होंने एक कार मैकेनिक को जान से मारने की धमकी दी है। शिकायत दर्ज होने के बाद मुंबई पुलिस तफ़तीश में जुट गई है। 

आदित्य पंचोली के खिलाफ मुंबई के वर्सोवा पुलिस स्टेशन में जो एफआईआर दर्ज कराई गई है, उसके मुताबिक़ उन्होंने एक कार मैकेनिक से काम तो कराया लेकिन उसका पैसा नहीं दिया । जब कार ने मैकेनिक ने अपना पैसा माँगा तो ऐक्टर ने उसे जान से मारने तक की धमकी दे डाली।

कार मैकेनिक का आरोप है कि ऐक्टर आदित्य पंचोली ने अपनी कार का काम उससे कराया था, जिसका मेहनताना क़रीब ठीक 2 लाख 82 हजार 158 रुपए हुए थे। कार का काम शुरू करने से पहले ही मेकैनिक ने उन्हें ख़र्च बता दिया था। जिस पर आदित्य ने हामी दी थी तब उसने काम शुरू किया था। लेकिन जब कार बन गई तो आदित्य ने पैसे देने इंकार कर दिया। 

Bमेकैनिक का आरोप है पैसे देने की जगह पंचोली ने मैकेनिक को जान से मारने की धमकी दे डाली। इसके बाद मैकेनिक की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और इसकी जांच में जुट गई है।

Continue Reading

Crime

VIDEO: पुणे फ़िल्मी स्टाइल में हुई लूटपाट, 4 घंटे तक वृद्ध दंपति सहित 5 लोगों को बंधक बनकरी की लूटपाट

मुंबई के व्यवसाई और उनके परिवार को हथियार के बल पर बंधक बनाकर घंटों की गई लूटपाट. पैसों के लिए गुलाबचंद छेड़ा को लेकर मुंबई भी आए थे लूटेरे

Published

on

Pune Armed robbers looted Aged couple at gunpoint in 4-hour ordeal on apte road

फिल्मों में लोगों ने कई लूटपाट की सीन देखे होंगे, जहाँ नक़ाब अपराधी हथियारों से लैस होकर घर में घुसते हैं और लोगों को बंधक बनाकर लूटपाट करके आसानी से निकल जाते हैं. बाद में मौके पर पुलिस वारदात हो जाने के बाद पहुँचती है. ये सब हो रहा था पुणे के आप्टे रोड, डेक्कन जिमखाना के पास बने सरोज सदन में. जहाँ मुंबई के मशहूर कॉटन व्यवसाई 80 साल के गुलाबचंद छेड़ा, उनके साले हंसकुमार खिमजी, उनकी पत्नी हेमाजी छेड़ा अपने दो नौकरों के साथ घर पर ही मौजूद थे.

सुबह 9 बजे जब दरवाज़े पर दस्तक हुई तो उन्हें लगा दूध वाला हमेशा की तरह देर से आया. लेकिन नौकर अनंत ने जैसे ही दरवाज़ा खोला हांथों में हथियार लिए पांच नकाबपोश घर में घुस आए. फिर घर में मौजूद सभी लोगों को एक कमरे में रस्सी से कुर्सियों पर बाँध दिया गया. बुज़ुर्गों के मुताबिक ऐसा लग रहा था मानों उन्हें सब पहले से जानकारी थी. इसके बाद लूटेरों ने घर में लूटपाट शुरू की,हथियार के बल पर घर से 6 लाख कैश, सोना चांदी और घडी मोबाइल सब लूट लिया.

लेकिन बुज़ुर्गों परेशानी तब शुरू हुई जब लूटेरे उनके साथ मारपीट करने लगे. उन्हें इस बात का यक़ीन नहीं हो रहा था की घर में सिर्फ इतने ही कैश और गहने हैं. जब लूटेरों को गुलाबचंद छेड़ा ने ये बताया की वो इससे ज़्यादा कैश तभी इंतज़ाम कर सकते हैं जब वो अपने मुंबई के कुर्ला स्तिथ दफ्तर पहुंचेंगे.

इसके बाद दो लूटेरों ने गुलाबचंद छेड़ा को कार में बिठाकर मुंबई की तरफ निकले जबकि बाकी तीन लूटेरों ने हथियार के बल पर बाकियों को घर में बंधक बनाया रखा. लेकिन इसी बीच घर में बंधक बने लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया. जिससे लूटेरे डर गए और वहां से भाग खड़े हुए. उन्होंने जाते जाते अपने साथियों को भी गुलाबचंद को छोड़कर भागने को कहा.

पुलिस के मुताबिक गुलाबचंद मुंबई पहुँच भी चुके थे और उन्होंने अपने ड्राइवर को पैसा भी लेने भेजा था लेकिन साथियों के फोन आते ही वो भी भाग गए.

Continue Reading

Latest

%d bloggers like this:
Bitnami