0
  • लोकेश राहुल को खराब फॉर्म के कारण दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से बाहर कर दिया गया
  • एमएसके प्रसाद ने कहा- टीम से बाहर होने पर लक्ष्मण ने रणजी ट्रॉफी में 1400 रन बनाकर वापसी की थी

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 04:01 PM IST

खेल डेस्क. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए ओपनर लोकेश राहुल को भारतीय टीम में नहीं चुना गया। खराब प्रदर्शन के कारण राहुल को टीम से बाहर कर दिया गया। उनकी जगह चयनकर्ताओं ने रोहित शर्मा को बतौर ओपनर चुना। वहीं, शुभमन गिल को पहली बार टेस्ट टीम में मौका मिला। राहुल को बाहर करने पर मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा कि राहुल  प्रतिभाशाली क्रिकेटर हैं, लेकिन टेस्ट में खराब फॉर्म के कारण उन्हें दक्षिण अफ्रीका सीरीज से बाहर किया गया। प्रसाद ने कहा, ‘पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण की तरह खुद को तैयार कर टीम में वापसी करें।’

मुख्य चयनकर्ता ने कहा, ‘जब लक्ष्मण को एक बार टीम से बाहर निकाला गया था, तब वे घरेलू मैच खेलने गए थे। उन्होंने रणजी ट्रॉफी में 1400 रन बनाकर राष्ट्रीय टीम में वापसी की थी। हमने राहुल से बात की है। वे एक बेहतरीन क्रिकेटर हैं और दुर्भाग्य से टेस्ट में उनका फॉर्म खराब हो गया।’

राहुल ने विंडीज में चार पारियों में 101 रन बनाए थे
वेस्टइंडीज दौरे पर ओपनर लोकेश राहुल चार पारियों में 101 रन ही बना सके थे। उन्होंने पिछले एक साल में 9 टेस्ट में सिर्फ एक ही शतक लगाया। इसके बाद वे एक अर्धशतक भी नहीं लगा सके। राहुल ने पिछले 30 टेस्ट पारियों में सिर्फ 664 रन बनाए। उन्होंने पिछले साल सितंबर में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में 149 रनों की पारी खेली थी।

राहुल को बहुत मौके मिले : प्रसाद
टीम के दूसरे ओपनर मयंक अग्रवाल भी विंडीज में चार पारियों में सिर्फ एक ही अर्धशतक लगा सके। उनके टीम में बने रहने के सवाल प्रसाद ने कहा, ‘हम शिखर धवन और मुरली विजय के जाने के बाद एक साथ दो ओपनर्स को नहीं बदल सकते। किसी एक सीनियर को वहां पर रहना होगा। राहुल को बहुत सारे मौके मिले, लेकिन दुर्भाग्य से उन्होंने लगातार बेहतर नतीजे नहीं दिए। राहुल ने टुकड़ो में बेहतर प्रदर्शन किए। टीम ने उनका बहुत साथ दिया।’

राहुल का करियर

फॉर्मेट मैच रन औसत शतक
टेस्ट 36 2006 34.58 5
वनडे 23 704 39.11 2
टी-20 28 899 42.80 2

DBApp

abhi

यौन शोषण के आरोपों पर चिन्मयानंद से 7 घंटे पूछताछ, एसआईटी ने आश्रम सीज किया

Previous article

कई कश्मीरी परिवार बच्चों की पढ़ाई और बुजुर्गों का इलाज करवाने के लिए रिश्तेदारों के घर शिफ्ट हो रहे

Next article

You may also like

More in Sports

Comments

Comments are closed.