Connect with us

Home

2019 में गोवा की सीटों के लिए मिलकर लड़ेंगी GSM और शिवसेना

Published

on

अगले वर्ष होने वाले आम चुनाव के लिए शिवसेना ने कमर कस ली है. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि गोवा की दो लोकसभा सीटों पर पार्टी गोवा सुरक्षा मंच (जीएसएम) के साथ मिलकर चुनाव में उतरेगी. पिछले वर्ष गोवा विधानसभा चुनाव में भी शिवसेना ने जीएसएम के साथ हाथ मिलाया था लेकिन यह गठबंधन एक भी सीट नहीं जीत पाया. जीएसएम के प्रमुख संघ के पूर्व नेता सुभाष वेलिंगकर हैं.

शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राज्य की दो लोकसभा सीटों के लिए जीएसएम के साथ गठबंधन को मंजूरी दे दी है. राउत ने कहा, शिवसेना ने गोवा की दोनों लोकसभा सीटों के लिए जीएसएम के साथ मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला किया है. इसके लिए शिवसेना प्रमुख ने इजाजत दे दी है.

राज्यसभा सदस्य ने कहा कि पार्टी के आधार को मजबूत बनाने की खातिर उद्धव अगले महीने गोवा जाएंगे. उन्होंने दावा किया कि तटीय राज्य में शिवसेना एक प्रमुख राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी के रूप में उभरी है. उन्होंने दावा किया, ‘सभी वर्गों के लोग शिवसेना से जुड़ रहे हैं.’ उत्तरी गोवा और दक्षिणी गोवा लोकसभा सीटों पर वर्तमान में बीजेपी काबिज है.

Source: Bhasha and FP

Crime

मॉडल की ड्रग्स ओवरडोज कराकर की गई हत्या,हॉस्पिटल के बाहर फेंकर भाग गए आरोपी !

मॉडल इकरा सईद की ड्रग्स ओवरडोज के जरिए संदिग्ध हालात में मौत हो गई। कराची की रहने वाली 22 वर्षीय इकरा मॉडलिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए लाहौर में रह रही थीं।

Published

on

मॉडल इकरा सईद की ड्रग्स ओवरडोज के जरिए संदिग्ध हालात में मौत हो गई। कराची की रहने वाली 22 वर्षीय इकरा मॉडलिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए लाहौर में रह रही थीं।

आरोप है कि तीन आरोपियों ने इकरा को लाहौर के गवर्नमेंट टीचिंग हॉस्पिटल शाहदरा तक पहुंचाया और फिर वहां से भाग गए। शुरुआती जांच में पता चला है कि हॉस्पिटल की तरफ से एक फोन कॉल आया था जिसमें इकरा के हॉस्पिटल में होने की जानकारी मिली थी।

डॉक्टरों ने बताया कि इकरा की मौत ड्रग्स की ओवरडोज की वजह से हुई है। वह अपने माता-पिता की इच्छा के विरुद्ध जाकर मॉडलिंग के क्षेत्र में आई थीं। सईद की पहचान उनके सेल फोन के जरिए की गई।

जांच में यह भी पता चला है कि इकरा मॉडलिंग के क्षेत्र में काम की तलाश कर रही थीं। काम न मिल पाने से परेशान इकरा गलत लोगों की संगति में फंस गईं। आरोपियों ने इकरा को जबरन अधिक मात्रा में ड्रग्स दिया। बता दें कि पुलिस ने इकरा को हॉस्पिटल तक पहुंचाने वाले उन तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है और मामले की जांच चल रही है। और आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही मामले का पूरा खुलासा होने की बात कही है।

Continue Reading

Exclusive

Loksabha Election 2019 : अगर आपके पास वोटर ID कार्ड नहीं है तो इन पहचान पत्रों से भी दे सकते हैं वोट, जानें कैसे ?

लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण की वोटिंग गुरुवार, 11 अप्रैल को होने जा रही है। इस बार का लोकसभा चुनाव 7 चरणों में होगा

Published

on

लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण की वोटिंग गुरुवार, 11 अप्रैल को होने जा रही है। इस बार का लोकसभा चुनाव 7 चरणों में होगा। सातवें चरण की वोटिंग 19 मई को होगी और चुनाव का परिणाम 23 मई को आएगा। चुनाव में वोट डालने के लिए आपको वोटर आईडी कार्ड की जरूरत होती है, लेकिन किसी कारणवश आपके पास अपना वोटर आईडी कार्ड नहीं है, तो घबराएं नहीं। आप दूसरे कई पहचान पत्रों की मदद से भी मतदान कर सकते हैं।

आप इन चीजों की मदद से भी दे सकते हैं वोट

मतदान करने के लिए आपके पास 11 फोटो पहचान पत्रों में से कोई भी एक होना जरूरी है। जिसे आपको अपने पोलिंग बूथ पर लेकर जाना होगा। आप ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, राज्य सरकार या केंद्र सरकार के द्वारा जारी सर्विस आईडेंटिटी कार्ड, पैन कार्ड, आधार कार्ड, बैंक या पोस्ट ऑफिस द्वारा दिया गया पासबुक, मनरेगा जॉब कार्ड, श्रम मंत्रालय द्वारा जारी स्वास्थ्य बीमा कार्ड, राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के दस्तावेज, पेंशन संबंधी दस्तावेज, वोटर आईकार्ड और प्रमाणित फोटो वोटर स्लिप का भी उपयोग कर सकते हैं।

Continue Reading

Bollywood/Fashion

सुप्रीम कोर्ट ने पीएम मोदी की बायोपिक पर रोक संबंधित याचिका पर सुनवाई टाली

पीएम नरेंद्र मोदी की बायोपिक इस 11 अप्रैल को रिलीज होने के लिए तैयार है.

Published

on

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक के रिलीज पर रोक लगाने की याचिका को ख़ारिज कर दिया है. अब इस मामले पर आगे मंगलवार को सुनवाई होने वाली है. ऐसे में कोर्ट ने इस बात से भी इंकार कर दिया कि फिल्म के डायरेक्टर किसी को भी फिल्म का कोई प्रिंट देंगे.

अदालत ने सोमवार को आदेश पारित नहीं किया और कहा कि वह मंगलवार को याचिका पर सुनवाई करेगी और इस बीच, याचिकाकर्ता यह बता सकता है कि फिल्म में क्या आपत्तिजनक है. मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने एक कांग्रेस कार्यकर्ता की याचिका पर कमेंट कर कहा, “हमें यह क्यों निर्देशित करना चाहिए कि किसी व्यक्ति को फिल्म की कॉपी दी जाए.”

पीठ ने याचिकाकर्ता के वकील से कहा: “हम यह देखने में विफल हैं कि इस तरह की दिशा कैसे जारी की जा सकती है … हम यह समझने में विफल हैं कि ऐसी दिशा क्यों दी जाए.” वकील ने कहा कि प्रोड्यूसर ने बयान दिया था कि बायोपिक 11 अप्रैल को रिलीज़ होगी.

पीठ ने कहा कि फिल्म की रिलीज की तारीख पर बयान देना असामान्य बात नहीं है, क्योंकि प्रोड्यूसर ने मान लिया होगा कि इसे सेंसर बोर्ड से प्रमाणन मिल जाएगा. पीठ ने कहा कि उस समय रिलीज को चुनौती देने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं थे, खासकर फिल्म का कंटेंट.

Continue Reading

Bitnami