Connect with us

Crime

CCTV VIDEO: पांच लाख के लिए किया था पांच साल के मासूम का अपहरण, अगर वक़्त पर नहीं पहुँचती पुलिस तो….

पुलिस ने पांच साले के मासूम सुफियान नासिर खान के अपहरण के आरोप में दो युवक मोहम्मद शकील सलीम खान और शाहरुख मिराज खान को गिरफ्तार कर लिया है.

Published

on

पुणे पुलिस की सतर्कता और तत्परता ने एक पांच साल के मासूम की ज़िन्दगी बचा ली. सुफियान नासिर खान अपने घर के पार्किंग में खेल रहा था और एक शख्स उसे अगवा कर ले गया. घटना रविवार की है. अपहरणकर्ताओं ने बच्चे के पिता जल्द से जल्द पांच लाख इंतज़ाम करने को कह रहा था. लेकिन मासूम के पिता पैसों का इंतज़ाम नहीं कर पा रहे थे. बस अपहरणकर्ता बच्चे को हमेशा के लिए बच्चे को खामोश करने वाला ही था की पुलिस ने उसे छुड़ा लिया.

पुलिस ने पांच साले के मासूम सुफियान नासिर खान के अपहरण के आरोप में दो युवक मोहम्मद शकील सलीम खान और शाहरुख मिराज खान को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस के मुताबिक बच्चा इमारत की पार्किंग में खेल रहा था. उसी दिन पार्किंग में एक आरोपी किसी से मिलने आया था. तभी उसकी नज़र बच्चे पर पड़ी और उसने उसे चॉक्लेट देने के बहाने अपनी गाडी पर बिठा लिया. बच्चा के लापता होने के बाद घरवालों ने उसे बहुत तलाशा लेकिन उसका कोई अता पता नहीं चल पाया.

दो दिन तक अपहरणकर्ता बच्चे के घर के बाहर इस बात का तोह लेते रहे की, घरवालों ने पुलिस को खबर दी या नहीं. जब वो उन्हें इस बात का यक़ीन हो गया की मामला सिर्फ गुमशुदगी की लिखाई गयी है. तब उन्होंने घर पर फिरौती के लिए कॉल किया. उन्होंने बच्चे को छोड़ने के बदले पहले 15 लाख की मांग की थी. लेकिन मामला 5 लाख पर तय हुआ. अपहरणकर्ताओं ने घरवालों को पुलिस में न जाने की सलाह दी थी. पर तब तक घरवालों ने पुलिस को खबर दे दी थी. जैसे ही उन्हें ये भनक लगी दोनों अपहरणकर्ताओं ने बच्चे को मारने का प्लान बना लिया था.

लेकिन शहर के कई सीसीटवी फुटेज और कॉल रिकार्ड्स की मदद से पुलिस अपहरणकरातों तक जा पहुंची और बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया . पुलिस ने मौके से ही दोनों अपहरकारतों को भी धर दबोचा है.

Crime

महाराष्ट्र के नंदुरबार में BJP नगर सेवक आनंद माली पर जानलेवा हमला

महाराष्ट्र के नंदूरबार जिले से भाजपा नगर सेवक पर जानलेवा हमले की खबर है. पुलिस के मुताबिक नंदुरबार शहर में विजय व्यायाम स्कूल के परिसर के पास दो गुटों में जमकर मारपीट हुई और इस मारपीट में कई लोग जख्मी हुए. आपको बता दें कि इस मारपीट में तलवारे भी लहराई गई. इसके अलावा कोयता और लाठी जैसे हथियारों का भी इस्तेमाल किया गया.

Published

on

नंदुरबार: महाराष्ट्र के नंदूरबार जिले से भाजपा नगर सेवक पर जानलेवा हमले की खबर है. पुलिस के मुताबिक नंदुरबार शहर में विजय व्यायाम स्कूल के परिसर के पास दो गुटों में जमकर मारपीट हुई और इस मारपीट में कई लोग जख्मी हुए. आपको बता दें कि इस मारपीट में तलवारे भी लहराई गई. इसके अलावा कोयता और लाठी जैसे हथियारों का भी इस्तेमाल किया गया.

महाराष्ट्र के नंदुरबार में दो गुटों में जमकर मारपीट

महाराष्ट्र के नंदुरबार में BJP नगर सेवक आनंद माली पर जानलेवा हमला

भाजपा के नगरसेवक आनंद माली गंभीर रूप से जख्मी हुए हैं जिन्हें पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उनका इलाज किया जा रहा है. प्रत्यक्षदर्शियों ने इस घटना का वीडियो भी बना लिया है और यह वीडियो बड़ी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और पुलिस मामले में आगे की जांच कर रही है

इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि गंभीर रूप से जख्मी भाजपा के नगरसेवक एंबुलेंस की मदद से आनंद माली को अस्पताल में ले जाया जा रहा है यह घटना बीती रात की है बताया जा रहा है कि कुछ दिनों से दोनों गुटों में आपसी तनाव चल रहा था जिसकी वजह से यह बड़ी घटना घटी है दो गुटों में आपसी तनाव और हिंसक मारपीट के बाद इलाके में तनाव पूर्ण माहौल बना हुआ है पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और पुलिस मामले में आगे की जांच कर रही है

Continue Reading

Crime

पत्रकार हत्याकांड में बड़ा खुलासा, महिला इंटर्न का आरोप दो साल से कर रहा था उत्पीड़न

पत्रकार हत्याकांड ठाणे पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में पत्रिका की इंटर्न और मैगजीन का प्रिंटर है। मुंबई की एक मासिक समाचार पत्रिका इंडिया अनबाउंड के संपादक की हत्या कर लाश जंगल में मिली थी। वह 15 मार्च से लापता थे। तभी उनके लापता होने की शिकायत संबंधित थाने में दर्ज कराई गई थी।

Published

on

ठाणे: पत्रकार हत्याकांड ठाणे पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में पत्रिका की इंटर्न और मैगजीन का प्रिंटर है। मुंबई की एक मासिक समाचार पत्रिका इंडिया अनबाउंड के संपादक की हत्या कर लाश जंगल में मिली थी। वह 15 मार्च से लापता थे। तभी उनके लापता होने की शिकायत संबंधित थाने में दर्ज कराई गई थी।

ठाणे ग्रामीण पुलिस का दावा है की इस मामले को पूरी तरह से सुलझा लिया गया है और आरोपियों ने भी अपना गुनाह क़ुबूल कर लिया है। पुलिस के मुताबिक हत्या के आरोप में गिरफ्तार इंटर्न पत्रकार अंकिता मिश्रा ने पहले उन्हें गुमराह करने की कोशिश की थी। लेकिन जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो पूरा मामला खुलकर सामने आ गया।

यौन उत्पीड़न कर रहा था संपादक
महिला पत्रकार ने पुलिस की पूछताछ में खुलासा किया है कि, संपादक नित्यानंद पांडेय पिछले दो सालों से उसका यौन उत्पीड़न कर रहा था। उसने उसका वीडियो बना लिया था जिसे दिखकर वो अक्सर उसे ब्लैकमेल करता था। बस इसी सब से परेशान होकर उसने संपादक कि हत्या कि साज़िश रची। अपने इस प्लान में उसने मैगजीन के प्रिंटर सतीश मिश्रा को भी शामिल कर लिया था।

फ़्लैट पर अकेले बुलाया था
प्लान के मुताबिक, अंकिता ने अपने संपादक नित्यानंद को एक फ़्लैट में बुलाया। फिर एक एनर्जी ड्रिंक में नींद कि गोली मिलाकर उसे पीला दिया। नित्यानंद पांडे उसे पीने का बाद पांडे बेहोश हो गए। तब अंकिता और मैगजीन के प्रिंटर सतीश ने गला घोंटकर उनकी हत्या कर दी। फिर दोनों उनकी लाश को एक कार में भरकर भिवंडी ले गए और जंगल में एक सुनसान इलाके में फेंक कर फरार हो गए।

मामले की तफ्तीश कर रही पुलिस ने जब जांच शुरू की तो सबसे पहला शक अंकिता पर ही आया था। जब उससे पूछताछ की तो उसने किसी तरह की भी संलिप्तता से साफ़ इंकार कर दिया था। लेकिन मोबाइल लोकेशन और सीसीटीवी की जांच के बाद उससे सख्ती से पूछताछ की गई तो वो टूट गई और सारा मामला सामने आ गया।

Continue Reading

Crime

औरंगाबाद में बीच सड़क पर एक शख्स पर तलवार से हमला, सामने आया वीडियो

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि वह बीच सड़क पर तलवारों से बाइक पर बैठे व्यक्ति पर हमला कर फरार हो गए। अपराधियों ने इस वारदात को सरेआम सड़क पर अंजाम दिया है। अब इस पूरी घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमे अपराधी बाइक पर बैठे पीड़ित पर तलवार से हमला करते हुए दिखाई दे रहे हैं

Published

on

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि वह बीच सड़क पर तलवारों से बाइक पर बैठे व्यक्ति पर हमला कर फरार हो गए। अपराधियों ने इस वारदात को सरेआम सड़क पर अंजाम दिया है। अब इस पूरी घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमे अपराधी बाइक पर बैठे पीड़ित पर तलवार से हमला करते हुए दिखाई दे रहे हैं। घटना को 48 घंटे से ज़्यादा का वक़्त बीत गया है लेकिन अब तक पुलिस के हाथ आरोपियों तक नहीं पहुँच पाए हैं।

इस हमले में घायल हैदर अली ने बताया कि, वह अपने बेटे को टयूशन क्लास से लाने के लिए शाहबाजार गया था। बच्चे के इंतजार में वो अपनी मोटरसाइकिल पर बैठा हुए थे, तभी किसी ने काम के बहाने फोन कर उनसे मिलने की बात कही। जैसे ही हैदर ने उन्हें अपना मौजूदा पता बताया, फोन रखने के तुरंत बाद दो लोगों ने उस पर तलवार से हमला कर दिया। जिसके बाद वहां मुजूद लोगों ने उसे अस्पताल पहुँचाया।

हमले में घायल व्यक्ति हैदर अली का कहना है कि, उसकी चार बेटियां हैं और बड़ी बेटी की शादी 2013 में हुई थी। लेकिन शादी के बाद से ही उसके सुसराल वाले परेशान कर रहे थे। हैदर अली की बेटी ने अपने ससुराल वालों के खिलाफ 2018 को अदालत में मामला दर्ज करवाया जिसके बाद से उसके ससुराल वाले हैदर अली को धमकियां दे रहे थे। कई बार हैदर अली ने औरंगाबाद के जिन्सी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई लेकिन वहां पर उससे शिकायत नहीं सुनी गई।

फिलहाल औरंगाबाद के सिटी चौक पुलिस थाने में हैदर अली पर तलवार से हमला करने वाले दो अज्ञात लोगों के खिलाफ IPC की धारा 324 और आर्म्स एक्ट के तेहत मामला दर्ज किया है और पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

Continue Reading

Trending

%d bloggers like this:
Bitnami