Connect with us

Social Per Hit

Eid-E-Milad-Un-Nabi 2018: पैगंबर हजरत मोहम्मद के जन्म की खुशी में मनाई जाती है ईद-ए-मिलाद, जानिए खास बातें

ईद-ए-मिलाद-उन-नबी (Eid-Milad-Un-Nabi-Eid) या ईद-ए-मिलाद (Eid-Ul-Milad) 21 नवंबर को है. मान्‍यता है कि इस दिन पैगंबर हजरत मोहम्मद (Prophet Hazrat Muhammad) का जन्म हुआ था.

Published

on

ईद-ए-मिलाद-उन-नबी (Eid-Milad-Un-Nabi-Eid) या ईद-ए-मिलाद (Eid-Ul-Milad) 21 नवंबर को है. मान्‍यता है कि इस दिन पैगंबर हजरत मोहम्मद (Prophet Hazrat Muhammad) का जन्म हुआ था. उन्‍हें इस्लाम धर्म का संस्थापक माना जाता है. इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार इस्‍लाम के तीसरे महीने रबी-अल-अव्वल की 12वीं तारीख, 571 ईं. के दिन ही मोहम्मद साहेब जन्मे थे. इस दिन मजलिसें लगाई जाती हैं. पैगंबर मोहम्मद द्वारा दिए गए पवित्र संदेशों को पढ़ा जाता है. उन्हें याद कर शायरी और कविताएं पढ़ी जाती हैं. मस्जिदों में नमाज़ें अदा की जाती हैं. यहां जानिए ईद-ए-मिलाद-उन-नबी और पैगंबर हजरत मोहम्मद के बारे में और खास बातें.

कौन थे पैगंबर हजरत मोहम्मद?
पैगंबर मोहम्मद का पूरा नाम मोहम्मद इब्न अब्दुल्लाह इब्न अब्दुल मुत्तलिब था. वह इस्लाम के सबसे महान नबी और आखिरी पैगंबर थे. उनका जन्म मक्का शहर में हुआ. इनके पिता का नाम अब्दुल्लाह और माता का नाम बीबी अमिना था. कहा जाता है कि 610 ईं. में मक्का के पास हीरा नाम की गुफा में उन्हें ज्ञान की प्राप्ति हुई. बाद में उन्होंने इस्लाम धर्म की पवित्र किताब कुरान की शिक्षाओं का उपदेश दिया. हजरत मोहम्मद ने 25 साल की उम्र में खदीजा नाम की विधवा से शादी की. उनके बच्चे हुए, लेकिन लड़कों की मृत्यु हो गई. उनकी एक बेटी का अली हुसैन से निकाह हुआ. उनकी मृत्यु 632 ई. में हुई. उन्हें मदीना में ही दफनाया गया.

क्यों मनाते हैं ईद-ए-मिलाद-उन-नबी?
मुसलमान पैगंबर हजरत मोहम्मद के जन्म की खुशी में ईद-ए-मिलाद-उन-नबी मनाते हैं. इस दिन रात भर प्रार्थनाएं चलती हैं. जुलूस निकाले जाते हैं. सुन्नी मुसलमान इस दिन हजरत मोहम्मद के पवित्र वचनों पढ़ते हैं और याद करते हैं. वहीं, शिया मुसलमान मोहम्मद को अपना उत्तराधिकारी मानते हैं. हजरत मुहम्मद के जन्मदिन को ईद-ए-मिलाद-उन-नबी के नाम से मनाया जाता है.

कैसे मनाते हैं ईद-ए-मिलाद-उन-नबी?
पैगंबर हजरत मोहम्मद के जन्मदिवस के अवसर पर घरों और मस्ज़िदों को सजाया जाता है. नमाज़ों और संदेशों को पढ़ने के साथ-साथ गरीबों को दान दिया जाता है. उन्हें खाना खिलाया जाता है. जो लोग मस्जिद नहीं जा पाते वो घर में कुरान को पढ़ते हैं. मान्यता है कि ईद-ए-मिलाद-उन-नबी के दिन कुरान का पाठ करने से अल्लाह का रहम बरसता है.

NDTV

Bollywood/Fashion

राहुल को मिली भाभी जी का साथ, कांग्रेस में शामिल होंगी एक्ट्रेस शिल्पा शिंदे

शिल्पा शिंदे का जन्म 28 अगस्त 1977 को महाराष्ट्र के एक मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था। उनके पिता डॉ. सत्यदेव शिंदे हाई कोर्ट में जज थे, जबकि उनकी मां गीता सत्यदेव शिंदे एक गृहिणी हैं। शिल्पा की दो बड़ी बहनें और एक छोटा भाई है।

Published

on

Shilpa Shinde to join congress

मुंबई: बिगबॉस सीज़न 11 विनर और भाभी जी घर पर हैं सीरयल से देशभर की चाहती बनी शिल्पा शिंदे ने औपचारिक तौर पर अब कांग्रेस का हाथ थाम लिया है, विश्वस्त सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक शिल्पा शिंदे को मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने पार्टी की सदस्य्ता दिलाई है और जल्द ही मुंबई से उनके चुनाव लड़ने का भी एलान किया जा सकता है.

आपको बता दें कि राजनीतिक पार्टियों में टीवी कलाकार और सिने जगत से जुड़े कलाकारों को ना सिर्फ चुनावी प्रचार में मतदाताओं का मन जितने के लिए जोड़ा जाता है बल्कि वक्त वक्त पर इन कलाकारों को राजनीतिक एंट्री भी मिलती रही है केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी इसका सबसे बड़ा उदहारण बनी हुई है.

वैसे बात अगर शिल्पा शिंदे की की जाए तो मुंबई सहित देशभर में शिल्पा शिंदे की बड़ी फैन फॉलोविंग है और यकीनन कांग्रेस ने इसी फैन फॉलोविंग को ध्यान में रखकर शिल्पा शिंदे को अपनी पार्टी में जगह दी है और आने वाले दिनों में शिल्पा शिंदे को मुंबई या फिर महाराष्ट्र की किसी अन्य सीट से लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी का उम्मीदवार भी घोषित किया जा सकता है.

महाराष्ट्र कि रहने वाली शिल्पा शिंदे ने अपना टेलीविजन करियर साल 1999 में किया था। उन्होंने भाभी जी घर पर है ! में अंगूरी भाभी का किरदार निभाने के लिए जाना जाता है। उन्होंने 2016 की शुरुआत में शो छोड़ दिया था। अक्टूबर 2017 में शिंदे ने रियलिटी टीवी शो बिग बॉस 11 में भाग लिया, जिसे उन्होंने अंततः 14 जनवरी 2018 को जीता।

शिल्पा शिंदे का जन्म 28 अगस्त 1977 को महाराष्ट्र के एक मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था। उनके पिता डॉ. सत्यदेव शिंदे हाई कोर्ट में जज थे, जबकि उनकी मां गीता सत्यदेव शिंदे एक गृहिणी हैं। शिल्पा की दो बड़ी बहनें और एक छोटा भाई है। वो केसी कॉलेज, मुंबई की मनोविज्ञान की छात्र थीं, लेकिन स्नातक की डिग्री प्राप्त करने में असफल रहीं। उसके पिता चाहते थे कि वह कानून की पढ़ाई करे, लेकिन उसमें उनकी कोई दिलचस्पी नहीं थी।

Continue Reading

Bollywood Crime

मशहूर सिंगर और स्टेज परफ़ॉर्मर शिवानी भाटिया की सड़क हादसे में मौत, पति गंभीर रूप से घायल

उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में यमुना एक्सप्रेस-वे पर हुए सड़क हादसे में मशहूर गायिका शिवानी भाटिया की मौत हो गई. जबकि उनके पति निखिल भाटिया गंभीर रूप से घायल हो गए.

Published

on

उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में यमुना एक्सप्रेस-वे पर हुए सड़क हादसे में मशहूर गायिका शिवानी भाटिया की मौत हो गई. जबकि उनके पति निखिल भाटिया गंभीर रूप से घायल हो गए. जिनकी हालत अब खतरे से बाहर बताई जा रही है. पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि कलाकार पति-पत्नी सोमवार को आगरा में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए कार से जा रहे थे, तभी सुरीर कोतवाली क्षेत्र के किमी संख्या-89 के निकट यह हादसा हुआ. उनकी कार (डीएल 3सी 4461) किसी अज्ञात वाहन के पीछे जा टकराई और चकनाचूर हो गई.

मूलरूप से बिहार के सीतामढ़ी जनपद की रहने वाली शिवानी भाटिया पिछले कई सालों से दिल्ली के लाजपतनगर में पति निखिल भाटिया के साथ रह रही थीं. वो दिल्ली एनसीआर और आसपास के शहरों में पॉप गायिका के रूप में बड़ी पहचान बना चुकी थीं.

सोमवार को आगरा में उनका एक शो था. इसके लिए पति के साथ आगरा जा रही थीं. गाड़ी शिवानी के पति निखिल चला रहे थे. मांट टोल चौकी प्रभारी शिववीर सिंह के अनुसार कार काफी तेज रफ्तार में थी. इसके चलते टक्कर होते ही कार के परखच्चे उड़ गए.

पुलिस और एक्सप्रेसवे कर्मियों ने दोनों को किसी तरह से कार से निकाला और नयति मेडिसिटी अस्पताल में भर्ती कराया. जहां शिवानी ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया. सूचना पर पहुंचे परिवार वालों ने शिवानी के शव का पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया और शव को अपने साथ ले गए. निखिल को भी उपचार के लिए परिजन दिल्ली ले गए हैं.

Continue Reading

Politics

गोवा में मां सोनिया के साथ छुट्टी मन रहे राहुल गांधी के लोग हुए दीवाने, कहा राहुल के सादगी के हम कायल

कुर्ता पजामा से अलग राहुल रेस्टॉरेंट में नीली टी-शर्ट पहने नजर आए। गोवा की एक मशहूर डेंटिस्ट रचना फर्नांडिस ने राहुल गांधी के साथ अपनी एक सेल्फी इंस्टाग्राम पर शेयर की है। रचना ने बताया कि राहुल और सोनिया चुपचाप लंच कर रहे थे, उनके साथ कोई सिक्योरिटी गार्ड मौजूद नहीं था। हम राहुल के सादगी के हम कायल हो गए।

Published

on

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी इन दिनों अपनी माँ और युपीए अध्यक्ष सोनिया गाँधी के साथ गोवा में छुट्टी मानाने पहुंचे थे। इस बीच रविवार को दोनों दक्षिण गोवा के चर्चित फिशरमैन्स व्हार्फ रेस्टॉरेंट में लंच के लिए पहुंचे थे। दोनों को देखते ही कई देशी विदेशी फैंस ने उन्हें सेल्फी के लिए घेर लिया। राहुल के साथ फैन्स ने राहुल गांधी के साथ सेल्फी भी ली।

कुर्ता पजामा से अलग राहुल रेस्टॉरेंट में नीली टी-शर्ट पहने नजर आए। गोवा की एक मशहूर डेंटिस्ट रचना फर्नांडिस ने राहुल गांधी के साथ अपनी एक सेल्फी इंस्टाग्राम पर शेयर की है। रचना ने बताया कि राहुल और सोनिया चुपचाप लंच कर रहे थे, उनके साथ कोई सिक्योरिटी गार्ड मौजूद नहीं था। हम राहुल के सादगी के हम कायल हो गए।

रचना ने अपने इंस्टग्राम पर लिखा कि,’जब मैंने और कई सारे लोगों ने राहुल गाँधी से सेल्फी के लिए पूछा तो उन्होंने कहा कि बिल पेमेंट के बाद वह सेल्फी लेंगे.’ खास बात यह है कि अपना बिल चुकाने के बाद राहुल रचना के पास गए और उनके साथ फोटो क्लिक की.

रचना ने आगे कहा, ‘वह राजनीति की गंदी दुनिया में होने के लिए बेहद अच्छे हैं.’ गोवा कांग्रेस के प्रवक्ता के मुताबिक दोनों तीन दिनों के प्राइवेट विजिट पर गोवा में थे. इस दौरान उन्होंने पार्टी की कोई बैठक नहीं की.

Continue Reading

Latest

%d bloggers like this:
Bitnami