0

मुंबई: अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुना दिया है और विवादित जमीन पर रामलला का हक माना है. कोर्ट के इस फैसले से राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हो गया है और कोर्ट ने केंद्र सरकार को इस संबंध में तीन महीने के अंदर एक ट्रस्ट बनाने का आदेश दिया है. 

सिनेमाई राम ने खास तौर पर एक छवि के रूप में राम के चरित्र को साकार करने की कोशिश की है. साल 1987 में बनी रामानंद सागर की ऐतिहासित टीवी सीरीज रामायण में राम का किरदार अभिनेता अरुण गोविल ने निभाया था. छोटे पर्दे पर उनके अलावा कई कलाकरों ने राम का रोल निभाया लेकिन उनकी छवि जिस तरह दर्शकों के मन में बसी थी कि लोग उनकी छवि को भगवान राम की छवि मान कर पूजा करते नजर आ जाते.  

यही कारण है की रामायण नाम से कई और सीरियल बने लेकिन जो ख्याति रामानंद सागर के रामायण को मिली थी वो किसी और सीरियल को नहीं मिला पाई. एनडीटीवी इमेजिन पर दिखाए गए सीरियल रामायण में अभिनेता गुरुमीत चौधरी ने राम का किरदार निभाया था. अरुण गोविल के अलावा गुरुमीत छोटे पर्दे पर सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले ‘राम’ रह चुके हैं. गुरुमीत अपनी पत्नी देबीना के साथ इस टीवी सीरीज का हिस्सा थे. उनकी पत्नी देबीना ने सीता का किरदार निभाया था. 

छोटे पर्दे के चर्चित कलाकारों में टीवी अभिनेता आशीष शर्मा ने छोटे पर्दे भी राम का किरदार निभाया था. उन्होंने टीवी सीरियल सिया के राम के में राम का किरदार निभाया था.इन कलाकारों के अलावा एक कलाकार और हैं जिन्होंने राम के किरदार को छोटे पर्दे पर निभाया है. जी हां, हम बात कर रहे हैं. टीवी सीरियल बुद्धा से पहचान बनाने वाले अभिनेता हिमांशु कोहली की जो छोटे पर्दे पर राम का किरदार निभा चुके हैं. उन्होंने सीरियल लव-कुश में भगवान राम का किरदार निभाया है.

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या विवाद पर फैसला देते हुए कहा है कि विवादित जमीन पर मुस्लिम पक्ष अपना हक साबित नहीं कर पाया है. ये कहते हुए कोर्ट ने विवादित जमीन पर रामलला का हक माना है और केंद्र सरकार को तीन महीने के अंदर एक ट्रस्ट बनाने का आदेश दिया है, जो राम मंदिर निर्माण से लेकर बाकी सभी काम देखेगा. जबकि मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में किसी दूसरी जगह मस्जिद निर्माण के लिए 5 एकड़ जमीन देने का आदेश दिया गया है.

AyodhyaVerdict: राम मंदिर के पक्ष में आया फैसला, 1992 के आंदोलन में हिस्सा लेने वाले कारसेवक ने कही यह बात

Previous article

असदुद्दीन ओवैसी बोले- हमें नहीं चाहिए ‘खैरात’, खारिज करें 5 एकड़ जमीन का ऑफर

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.