0

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने गुरुवार को कहा कि आयकर विभाग ने करचोरी के एक मामले में महाराष्ट्र के पुणे क्षेत्र में एक कारोबारी के खिलाफ छापेमारी कर 9.55 करोड़ रुपये जब्त किये हैं. आयकर छापे में यह अब तक की सबसे बड़ी नकदी की बरामदगी है. सीबीडीटी ने कहा कि यह कार्रवाई चार नवंबर को की गयी. हालांकि, एजेंसी ने कारोबारी का नाम नहीं बताया.

सीबीडीटी ने एक बयान में कहा, ‘‘खुफिया सूचनाएं मिली कि कारोबारी के पास उसके निवास स्थान पर भारी मात्रा में नकदी उपलब्ध है और जिसे जल्दी ही ठिकाने लगाया जा सकता है. इसके आधार पर तत्काल कार्रवाई करते हुए नकदी की उपलब्धता को लेकर जानकारियां जुटायी गयीं. इसके बाद कारोबारी के आवास और उसके कारोबारी परिसर की तलाशी के लिये एक वारंट जारी किया गया.”

सीबीडीटी ने कहा कि कारोबारी निर्माण, ठेके तथा रियल एस्टेट से जुड़े कारोबार में शामिल है. बोर्ड ने कहा कि तलाशी अभियान के दौरान 9.55 करोड़ रुपये की बिना हिसाब किताब की नकदी को जब्त किया गया. आयकर विभाग द्वारा पुणे में यह अब तक की सबसे बड़ी नकदी की जब्ती हुई है. मामले में अभी जांच कार्य जारी है.

पाकिस्तान ने पुंछ में संघर्ष विराम का किया उल्लंघन, गोलीबारी में एक जवान शहीद

Previous article

सरकार और इसके नीमहक़ीमों द्वारा किए गए ‘नोटबंदी सारी बीमारियों का शर्तिया इलाज’ नीम-हक़ीमों द्वारा किए गए दावे धराशायी- प्रियंका गांधी

Next article

You may also like

More in Crime

Comments

Comments are closed.