क्या साला ही है भाजपा नेता और उसके परिवार वालों के हत्या का आरोपी

नागपुर में आराधना नगर में बीजेपी नेता सहित उसके परिवार के पांच लोगों की धारदार हथियार से की गयी हत्या के मामले में अब भी पुलिस के हाँथ खाली है। तफ्तीश में जुटी पुलिस का दावा है की क़ातिल की पहचान कर ली गयी और उसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आरोपी की गिरफ़्तारी के लिए नागपुर पुलिस की नौ टीमें काम कर रहीं। कल कमलाकर पोहणकर, उनकी पत्नी, मां, बेटी और भांजे की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी। कमलाकर पोहणकर बीजेपी कार्यकर्ता थे। इस हत्याकांड में पोहणकर की छोटी बेटी और भांजी दूसरे कमरे में सो रही थी जिससे दोनों बच गई।

मामले की तफ्तीश कर रहे अधिकारियों के मुताबिक, हत्या के पीछे कमलाकर पोहणकर के साले का हाँथ हो सकता है। क्यूंकि वो तीन साल बाद जेल से छूटा है और उसकी गाडी भी घर के बाहर मिली है। पुलिस इस मामले में कमल के साढ़ू विवेक पलटकर को ही मुख्य आरोपी मान रही है। विवेक तीन साल से जेल में बंद था और हाल में छूटा था। विवेक पर अपनी पत्नी सविता की हत्या का आरोप है। सविता और कमल की पत्नी दोनों सगी बहनें हैं। इस हत्याकांड में विवेक की बच्ची भी बच गयी है, 2014 में पिता विवेक द्वारा माँ सविता की हत्या के बाद से ही वो कमल के परिवार के सात रहती थी।

पुलिस को शक है की हत्या के बाद विवेक हरिद्वार भाग गया है। नागपुर पुलिस की दो टीमें हरिद्वार में है ताकि उसकी जल्द से जल्द गिरफ़्तारी हो सके। और ये पता लगाया जा सके की आखिर उसने इतने बड़े हत्याकांड को क्यों और कैसे अंजाम दिया। क्यूंकि इतने बड़े हत्याकांड को कोई अकेले अंजाम नहीं दे सकता।


Close Bitnami banner
Bitnami