आखिर कैसे सुलझी प्रियंका गुरव के क़त्ल की गुत्थी

पति और ससुराल वालों द्वारा मौत के घाट उतारी गई प्रियंका गुरव के क़त्ल के मामले में बेहद अहम् खुलासा हुआ है। आरोपी पति सिद्धेश ने अहम खुलासा किया है की क़त्ल की पूरी साज़िश उसकी माँ ने ही रची थी। इतना ही नहीं प्रियंका के शव को टुकड़ों में काटने के लिए बड़ी छुरियां भी उसकी माँ ने ही खरीद के लाया था। पुलिस की पूछताछ में आरोपी पति सिद्धेश ने बताया कि, उसका पूरा परिवार प्रियंका से छुटकारा चाहता था। क्यूंकि प्रियंका बार बार उन्हें पुलिस केस में फंसाने कि धमकी दिया करती थी। वो हर बात में घर वालों से बहस और लड़ाई तक के लिए तैयार हो जाती थी। उसके बर्ताव से पूरा परिवार तनाव में आ गया था। प्रियंका से शादी करना उसकी मजबूरी बन गयी थी।

Cops found her charred remains nearly 50 km away in Khoni village

सिद्धेश ने बताया कि, उसकी और प्रियंका का अफेयर तीन साल से चल रहा था। लेकिन वो हर बात को लेकर प्सॉसेसिव हो जाती थी। मैं अगर किसी से बात भी करता तो वो उसका लेकर काफी बवाल मचाती थी। यही वजह थी कि मैं धीरे धीरे उससे दूरी बनाने लगा। इन तीन सालों में हमारे बीच कई बार शारीरिक संबंध भी बने थे।  जब मैं उसे इग्नोर कर रहा था तब प्रियंका मेरी वर्ली वाले घर आ धमकी थी और खूब हंगामा भी किया था। वो मुझे और मेरे परिवार को बलात्कार और ब्लैकमेलिंग के आरोप में गिरफ्तार कराने कि धमकी देने लगी। इससे डर के मेरे घरवालों ने शादी के लिए हाँ कर दी, मगर शादी के बाद भी ये सबब काम नहीं हुआ।  तभी मेरी माँ ने हमेशा के लिए उसे रास्ते से हटाने का फैसला कर लिया था।

Also Read: 

टुकड़ो में मिली थी दुल्हन कि लाश, टैटू ने सुलझाई क़त्ल कि गुत्थी​

Manohar, the father (third from left), Siddesh and Priyanka

क़त्ल से पहले पुलिस को गुमराह करने के लिए क्राइम कि कई कहानियां पढ़ीं शो देखे..

क़त्ल से पहले सिद्धेश ये जानता था कि अगर प्रियंका को लेकर कोई भी सवाल खड़ा होगा तो सबसे पहले शक कि सुई उसकी ओर घूमेगी। इसी लिए उसने पुलिस को गुमराह करने कि भी तैयारी कर रखी थी। उसने इसके लिए गूगल पर घंटो रिसर्च किया और तय किया कि वो क़त्ल तो करेगा लेकिन लाश फेकने के लिए बहार नहीं जाएगा। ताकि अगर पुलिस उससे पूछताछ भी करे तो ये साबित करे कि क़त्ल वाली रात अपने घर पर ही था। प्रियंका किसी और के साथ भागी थी और वही उसका क़ातिल है।

Siddesh killed Priyanka just five days after their wedding

Husband Siddhesh

दोस्त को किया शामिल …

इसके बाद सिद्धेश ने क़त्ल कि पूरी प्लैनिंग में अपने दोस्त दुर्गेश को शामिल किया। दुर्गेश ने उनका साथ देने के बदले लाख रूपये मांगे थे। क़त्ल वाली रात दुर्गेश उनके घर आया और परिवार के साथ मिलकर प्रियंका को मौत के घात उतार दिया।

Durgesh Patwa, who allegedly helped dispose of the body parts

Durgesh Patwa

एक गलती से पकडे गए क़ातिल ..

लेकिन कहते हैं क़ातिल कितना ची शातिर क्यों न हो गलती ज़रूर करता है। इस पूरी साज़िश में कहीं भी सिद्धेश ने अपने मोबाइल से दुर्गेश से बातचीत नहीं की थी। लेकिन जिस रात क़त्ल हुआ और दुर्गेश प्रियंका के शव के टुकड़े को निकला था उस रात सिद्धेश ने गलती से अपनी के मोबाइल की जगह प्रियंका के फ़ोन से कॉल लगा दिया था। और जब पुलिस तफ्तीश के दौरान प्रियंका का मोबाइल सी डी आर की जांच कर रही थी तभी उनकी नज़र दुर्गेश के नंबर पर गई। पुलिस ने दुर्गेश को उठाया और क़त्ल की ये पूरी गुत्थी परत दर परत खुलती चली गई।


Close Bitnami banner
Bitnami