अथर्वा शिंदे की मौत की गुत्थी और भी उलझी CCTV फुटेज से नहीं मिला सुराग

पुलिस अधिकारी नरेंद्र शिंदे के बेटे की मौत की गुत्थी सुलझाने के बजाय और भी उलझती जा रही है. पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है की उसकी मौत छाती में चोट लगने की वजह से हुई है. वहीँ इस मामले में तफ्तीश कर रही पुलिस के हाँथ CCTV फुटेज के इलावा चार गवाह सामने आए हैं. पहली गवाह है अथर्वा की गर्लफ्रेंड जिसने पुलिस को जानकारी दी है की वो उसके साथ निकली थी लेकिन हम रास्ता भटक गए. अथर्वा कहीं खो गया तो और वो वापस उसी बंगले में चली आई जहाँ पार्टी चल रही थी. दूसरा एक ऑटो ड्राइवर है जिसने पुलिस को बताया है की अथर्वा उसके ऑटो में बैठा थालेकिन उसे अपना पता तक याद नहीं था और वो डरा हुआ और नशे में लग रहा था जबकि तीसरा एक वॉचमैन है जिसने उसे दीवार कूदते हुए और उल्टियां करते हुए देखा था. आखरी गवाह एक बंगले का मालिक है जिसने अथर्वा को उसी जगह पर पड़ा हुआ देखा था जहाँ उसकी लाश मिली थी.

पुलिस की मानें तो पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट में मौत की वजह छाती में चोट लगाना बताया जा रहा है. वहीँ अथर्वा की गर्लफ्रेंड भी इस वक़्त अस्पताल में भर्ती है. सूय्टरों की मानें तो बहुत ज़्यादा ड्रग्स लेने की वजह से उसकी तबियत बिगड़ गयी थी.

इस वक़्त मुंबई पुलिस के लिए सबसे बड़ी चुनौती है अथर्वा की मौत से जुडी टूटी कड़ियों जोड़ना. पुलिस ने इस मामले में पार्टी में शामिल हुए कई लड़के लड़कियों से पूछताछ की है. सबके बयान में एक बात कॉमन है की जब उस बंगले में पार्टी के दौरान मारपीट और झगड़ा हुआ था. अथर्वा अपने गर्लफ्रेंड के साथ किनारे खड़ा था. तो वहीँ पुलिस को अभी भी उन लड़कों की तलाश है जिन्होंने उस पार्टी में मारपीट की थी. CCTV फुटेज से भी इस बात की पुष्टि होती है की अथर्वा बंगले से अपनी गर्लफ्रेंड के साथ निकला था. लेकिन कुछ देर बाद वो लौट आई लेकिन अथर्वा नहीं आया.


Close Bitnami banner
Bitnami