प्रेमिका के शौक पूरा करने के लिए बना लुटेरा

पालघर जिले की वालीव पुलिस ने एक ऐसे शातिर गिरोह के चार लोगों को गिरफ्तार किया है। जो हाइवे पर वाहन चालकों से लिफ्ट मांगकर उनकी आँखों में मिर्ची पावडर डालकर हथियारों की नोक पर लूटपाट करते थे। पुलिस ने उनके गिरफ्तारी के बाद हाइवे लूट के कई मामलों का खुलासा किया है। आरोपियों के पास से 6 मोबाइल, दो कार, छह बाइक, मिर्ची पावडर व कई धारदार हथियार बरामद किये है। साथ ही पुलिस को एक घटना का सीसीटीवी फुटेज भी मिला है जिसमे चारो आरोपी लूट की घटना को अंजाम देने के बाद भागते दिखाई दे रहे है।

पुलिस ने बताया कि, इस गिरोह ने कई महीनों से मुंबई-अहमदाबाद हाइवे लूटपाट कर आतंक मचा रखा था। ये माल से भरी गाड़ियों से लिफ्ट मांगकर चढ़ जाते थे फिर चालक की आँखों में मिर्ची पावडर डालकर लूटपाट करते थे। लगातार मिल रही शिकायतों के बाद पुलिस इस गिरोह के तलाश में थी। इसी बीच वालीव पुलिस स्टेशन के अधिकारी को गुप्त सूचना मिली कि 6 लोग एक कार में सवार होकर वालीव नाका के पास एक ज्वेलर्स की दुकान में डकैती डालने जा  रहे है। टीम ने क्षेत्र में नाका बंदी कर दी एक कार का पीछाकर चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि दो आरोपी फरार होने में कामयाब हो गये।  गिरफ्तार आरोपियों में चिराग रविन्द्र मेढ़ेकर उर्फ़ चिका , सुनील संदीप वाघमारे, रामजीत नरेश भारती व बालाजी शिवाजी निंताबाजे है। जबकि सूरज किशोर जाधव व पाखरे फरार हो गये है।

अपर पुलिस अधीक्षक राज तिकल रोशन ने बताया कि, मुख्य आरोपी चिराग रविन्द्र मेढ़ेकर उर्फ़ चिका पर अपहरण का मामला भी दर्ज है। उसने कुछ माह पूर्व नवी मुंबई से एक नाबालिग लड़की को भगाकर लाया था। और उसी प्रेमिका के शौक पूरा करने के लिए उसने लूटपाट शुरू कर दिया था। गिरफ्तार आरोपियों से कई धारदार हथियार, मिर्ची पावडर, दो  कार , 6 मोबाइल,6 बाइक बरामद की है।

अपर पुलिस अधीक्षक राज रोशन तिलक ने बताया कि सभी आरोपी नालासोपारा के रहने वाले है और उन्हें चार दिन की पुलिस हिरासत मिली है।


Close Bitnami banner
Bitnami