What`s App से पकड़ा गया बुज़ुर्गों को निशाना बनाने वाला शातिर ठग

मुंबई से सटे मीरा रोड पुलिस ने एक ऐसे ठग को गिरफ्तार किया है जो सिर्फ बुज़ुर्गों को अपना निशाना बनाता था। अब तक वो कई लोगों से करोड़ों की ठगी कर चूका है। पुलिस ने राजीव हसमुख भाई नामक इस शख्स को गिरफ्तार कर लिया है।  पुलिस ने इसके पास कई बैंकों के एटीएम कार्ड भी जब्त किये है।

आरोपी राजीव हसमुख भाई पर आरोप है की, पिछले दो सालों में इस शख्स ने सिर्फ मीरा भायंदर इलाके में सौ से भी अधिक सीनियर सिटीजन को निशाना  बना चूका है। ये बुज़ुर्गों को एटीएम में मदद के बहाने उनका एटीएम कार्ड अपने एटीएम कार्ड से बदल लेता था और उनके खाते से पैसा निकालकर रफू चक्क्कर हो जाता था। पिछले दो सालों से इसने कई लोगों को अपने जाल मे फंसाया है और मीरा भायंदर पुलिस स्टेशन में खाते से पैसा निकाले जाने की शिकायत कई लोगों ने की थी।

बुज़ुर्ग जब एटीएम से पैसा निकालने जाते थे तब उन्हें एटीएम के बारे इतनी जानकारी नहीं रहती थी। तभी इस मौके का फायदा उठाकर राजीव हसमुख भाई उनकी मदद करने के बहाने उनसे एटीएम पिन और एटीएम कार्ड ले लेता था और धीरे से अपना एटीएम कार्ड उनके एटीएम कार्ड से बदल लेता था उन्हें जो भी रकम चाहिए रहती थी वो निकालकर उन्हें दे देता था।  फिर उनके जाने के बाद खाते में बची शेष राशि को निकाल कर भाग जाता था।

इसने 24 मार्च 2017 दिन 65 वर्ष के पूर्व सैनिक भिकाजी राजाराम कदम को अपने जाल में फंसाया कदम स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया से पेंशन के पैसे निकालने के लिए गए हुए थे, उन्हें एटीएम के बारे में अधिक जानकारी नहीं थी तभी राजीव ने उन्हें एटीएम से पैसा निकालने की मदद का बहाना बताकर पहले उनसे एटीएम पिन लिया और बाद में उनके एटीएम कार्ड से अपने एटीएम कार्ड को बदल लिया उनके जाने के बाद उनके खाते से 40000 हज़ार रूपए निकालकर फरार हो गया।

इस मामले में तब मीरा रोड पुलिस ने अनजान व्यक्ति के ऊपर मामला दर्ज कर लिया था, पुलिस ने आरोपी के फ़ोन को ट्रेस कर उसके नंबर को व्हॉट्सअॅप पर सर्च किया तो व्हॉट्सअॅप डीपी और एटीएम मशीन पर खींची हुई तस्वीर एक जैसी मिली।  पुलिस ने आरोपी को बार से गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया है कि आरोपी राजीव पर राजस्थान समेत मुंबई के कई पुलिस थाने में धोखाघड़ी करने का मामला दर्ज है।

 


Close Bitnami banner
Bitnami