CrimeNationNationalNewsPoliticsTop StoriesTrending News

Chhattisgarh: जिलाधिकारी का दवाई लेने निकले युवक को थप्पड़ मारने का वीडियो वायरल, हुआ ट्रांसफर

0

छत्तीसगढ़ में सूरजपुर के जिलाधिकारी द्वारा एक युवक को थप्पड़ मारने और उसका मोबाइल फोन फेंकने की घटना का वीडियो वायरल हो गया है, जिसके बाद राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जिलाधिकारी को हटाने का निर्देश दिया है.

मुख्यमंत्री बघेल ने ट्वीट किया, ‘‘सूरजपुर के जिलाधिकारी रणबीर शर्मा द्वारा एक नवयुवक से दुर्व्यवहार किए जाने का मामला सोशल मीडिया के माध्यम से मेरे संज्ञान में आया है. यह बेहद दु:खद और निंदनीय है. छत्तीसगढ़ में इस तरह का कोई कृत्य कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.’’उन्होंने कहा, ‘‘जिलाधिकारी रणबीर शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए गए हैं.’’

बघेल ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘‘शासकीय जीवन में किसी भी अधिकारी द्वारा इस तरह का आचरण स्वीकार्य नहीं है. मैं इस घटना से क्षुब्ध हूं. मैं युवक एवं उनके परिजनों से खेद व्यक्त करता हूं.’’मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद राज्य प्रशासन ने भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी शर्मा का तबादला संयुक्त सचिव (प्रतीक्षारत) के रूप में नवा रायपुर स्थित मंत्रालय (सचिवालय) में कर दिया है. शर्मा की जगह रायपुर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी गौरव कुमार सिंह को सूरजपुर का जिलाधिकारी नियुक्त किया गया है. सूरजपुर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लॉकडाउन लागू किया गया है.

शर्मा द्वारा एक युवक को थप्पड़ मारने का वीडियो शनिवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. इस वीडियो में दिख रहा है कि मास्क लगाए एक युवक को पुलिस ने रोका. युवक ने शर्मा को एक कागज और मोबाइल फोन पर कुछ दिखाने की कोशिश की, लेकिन इसी दौरान शर्मा ने उसका फोन जमीन पर फेंक दिया.

वीडियो में दिख रहा है कि शर्मा ने बाद में युवक को थप्पड़ भी मारा. इसके बाद मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी और अधिकारी वहां पहुंचे और दो पुलिस कर्मियों ने युवक की डंडे से पिटाई की. वीडियो में सुनाई दे रहा है कि शर्मा युवक की पिटाई का आदेश दे रहे हैं. वीडियो के वायरल होने के बाद शर्मा ने इस घटना के लिए माफी मांगी.

पुलिस के मुताबिक, युवक की पहचान अमन मित्तल के रूप में की गई है. उसके खिलाफ लॉकडाउन के कथित उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है. वीडियो के वायरल होने के बाद शर्मा की सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचना हो रही है. लोगों ने उन्हें हटाने और उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की भी मांग की है.इस बीच आईएएस एसोसिएशन ने शर्मा के इस कृत्य की कड़ी निंदा की है.

एसोसिएशन ने ट्वीट किया, ‘‘ आईएएस एसोसिएशन सूरजपुर के जिलाधिकारी के व्यवहार की कड़ी निंदा करता है. यह अस्वीकार्य है और सेवा एवं सभ्यता के मूल सिद्धांतों के खिलाफ है. लोक सेवकों को हमेशा और खासकर इस कठिन समय में समाज के लोगों के प्रति सहानुभूति रखनी चाहिए.

Mucormycosis: ब्लैक फंगस को लेकर Rahul Gandhi ने मोदी सरकार को घेरा

Previous article

छत्तीसगढ़ के बाद मध्यप्रदेश के अफ़सर के थप्पड़ की गूँज. शाजापुर में ADM मंजूषा राय ने दुकान खुले पाये जाने पर मारा थप्पड़

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami