तो क्या इतनी बेशर्म हो गई मुंबई पुलिस ? ट्रांसजेंडर पर जबरन सेक्स करने का डाला दबाव

मुंबई पुलिस पर एक ट्रांसजेंडर ने बेहद गंभीर आरोप लगाए हैं। आरोप है की देर रात जब अपने घर लौट रही थी तो मुंबई पुलिस के तीन लोगों ने उसके साथ बदसलूखी की। उकसे साथ ये सब करनेवालों में एक अधिकारी था जबकि दो कॉन्स्टेबल थे। उसे जबरन पैट्रोलिंग वैन में बिठाया और उसे उनके साथ सेक्स करने को मजबूर करने लगे। पुलिस वाले यहीं नहीं रुके उसके कपडे के अंदर हाँथ डाला और पुछा की ,उसके छाती पर हाँथ डाला और उससे अभद्र तरीके से ये पुछा की उसकी छाती असली है या नकली।

Image result for Durga Chaphekar transgender Mid day

IMAGE SOURCE MIDDAY

पीड़ित यूनाइटेड नेशन डेवलेपमेंट प्रोग्राम के लिए काम करती हैं। उसने अपनी आप बीती सुनाते हुए कहा की, जब वो रात करीब 2:30 बजे माहिम से एक कार्यक्रम के बाद घर लौट रही थी। तभी ये घटना हुई, जैसे ही वो बांद्रा ब्रिज से उत्तरी उन्हें पुलिस वालों ने जांच के नाम पर रोक लिया। फिर जबरन उसे गाडी में लेकर गए। गाडी में बिठाने के बाद पुलिस वालों ने उसे उनके साथ सेक्स करने के लिए दबाव डालने लगे। जब वो नहीं मानी तो जबरन ओरल सेक्स के लिए परेशान किया और तो और विरोध किया तो उसने मेरे ब्रेस्ट को दबाया और कहा कि देखूं ये असली है या नकली। जब मैंने उनका विरोध करना चाहा तो उन्होंने धमकाते हुए कहा की वो उनकी बात नहीं मानेगी तो वो उसकी डंडे से पिटाई करेंगे।

तभी मौका पाते वो वहां से भागी और निर्मल नगर थाने को फ़ोन कर उनसे मदद मांगी। निर्मल नगर थाने के अधिकारी की मानें तो उस पूरे इलाके का सीसीटीवी फुटेज निकल कर मामले की जांच की जा रही है।   अगर चुपचाप नहीं आएगी तो डंडे से मारूंगा। इसके बाद मैं वहां से तेजी से दौड़ी और घर आकर रुकी। इसके बाद मेघा ने पुलिस को संपर्क किया और अपनी शिकायत दर्ज कराई।


Close Bitnami banner
Bitnami