EXCLUSIVE: नशे की पार्टी में शामिल होने गया था पुलिस अधिकारी बेटा, बंगले में हुई जमकर मारपीट

मुंबई आर्थिक अपराध शाखा के अधिकारी नरेंद्र शिंदे के बीस साल के बेटे अथर्वा की हत्या किसी रहस्य से काम नहीं है. वो घर से निकला था तो ये बोलकर की वो बर्थडे पार्टी में जा रहा है लेकिन वो जा पहुंचा ऐसी पार्टी में जहाँ उसे कोई नहीं जानता था. फिर उस पार्टी में ऐसा क्या हुआ की अथर्वा की हत्या कर दी गयी. अब मुंबई पुलिस इस मामले में उसके सारे दोस्तों से पूछताछ कर रही है. उसमे वो लड़की भी है जिसकी पार्टी में शरीक होने अथर्वा घरवालों से झूट बोलकर निकला था.

पुलिस के सामने कुछ गवाह भी आये हैं जिन्होंने इस संदेहास्पद मौत की गुत्थी पर धुंदली सी रौशनी डाली है. एक शख्स जो इसी बंगले के पास रहता है जहाँ अथर्वा पार्टी करने गया था, ने बताया की उसने अथर्वा को गेट कूदकर भागते हुए देखा था. वो उसी दिशा में अकेले भाग रहा था जहाँ उसकी लाश मिली है. वो बिलकुल डरा हुआ और बदहवास था. वहीँ अथर्वा के वो दोस्त जिसमे एक लड़की भी ने पुलिस को पूछताछ में बताया है की उस पार्टी में सिर्फ अथवा उन्ही दोनों को पहचानता था. बाकी सब उसके लिए अंजान थे. उस पार्टी में करीब 20 लोग थे जो नशे में थे और इसी दरम्यान किसी बात को लेकर वहां मारा मारी हो गयी थी. मारामारी के बाद सब इधर उधर भागने लगे थे उसमे अथर्वा भी था. इस मारामारी में अथर्वा का फ़ोन भी टूट गया था जिसे बाद पुलिस ने बंगले से बरामद किया है.

दोनों दोस्तों के मुताबिक अथर्वा को बाद में उन लोगों ने तलाशने की भी कोशिश की लेकिन उसका कोई अता पता नहीं था. उन्हें लगा की वो घर चला गया होगा. मगर बाद में उन्हें जानकारी मिली की अथर्वा की लाश मिली है. लड़की फिलहाल अस्पताल में है और वहां उसका इलाज चल रहा है. सूत्रों के मुताबिक लड़की को छोटे आयीं हैं और बहुत ज़्यादा नशा की वजह से उसकी तबियत बिगड़ गयी थी.

पुलिस ने अथर्वा के शव को पोस्टमॉर्टेम के लिए भेज दिया है लेकिन प्रिलिमनरी रिपोर्ट में भी मौत की सही वजह साफ़ नहीं होने की वजह से मौत पर रहसय गहरा गया है.


Close Bitnami banner
Bitnami