देखिये कल्याण जेल ब्रेक का Exclusive सीसीटीवी फुटेज

देश के सुरक्षित जेलों में शुमार कल्याण जेल की सुरक्षा उस वक़्त धरी की धरी रह गयी। जब दो आरोपी सुरक्षा को धत्ता बताते हुए जेल से फरार हो गए।
चौंकाने वाली खबर ये है की, जिन सीसीटीवी कैमरों से उनपर नज़र रखी  जाती है। वही उनके जेल से भागने में मददगार साबित हुई। भागने वाले दोनों आरोपियों ने सीसीटीवी के तारों का इस्तेमाल करते हुए जेल की दीवारों पर चढ़े और फरार हो गए। अब तक की जांच में सामने आया है की दोनों आरोपी कल्याण स्थित आधारवाडी जेल से सुबह पौने सात बजे फरार हुए हैं। अब जेल प्रशासन ने इस बारे में जांच शुरू कर दी है। साथ ही पुलिस को भी जानकारी दे दी गयी है जिसके बाद स्थानीय पुलिस कई टीमें बनाकर दोनों आरोपियों की तलाश में जुटी है।
लीड इंडिया के पास इस जेल ब्रेक पूरा सीसीटीवी फुटेज है। जिसमे दोनों आरोपी जेल की दीवार फांद कर भागते हुए साफ़ दिखाई दे रहे हैं।  इस फुटेज में साफ़ साफ़ दिखाई देता है की कैसे दोनों ने पहले सीसीटीवी कैमरों के लिए बिछाई गयी तार को तोड़ते हैं और फिर उसे जेल की दीवार के ऊपर फंसाकर  एक एक कर फरार हो जाते हैं। ये सब करीब 13 मिनट तक चलता रहा और जेल अधिकारियों को इसकी भनक तक नहीं लगी।
पुलिस के मुताबिक़, भागने वाले दोनों आरोपियों के नाम डेविड मुर्गेश देवेंद्रम और मनिकांतम नाडर है।  डेविड मुर्गेश देवेंद्रम डकैती और लूटपाट के आरोप में  कल्याण के आधावरवाड़ी जेल में बंद था जबकि मनिकांतम नाडर पर हत्या का प्रयास के मामले में गिरफ्तार कर जेल लाया गया था। इनके भागने की जानकारी जेल प्रशासन को तब लगी जब सुबह कैदियों  की गिनती शुरू हुई। गिनती में दो लोग कम थे जब जांच की गयी तो डेविड मुर्गेश देवेंद्रम और मनिकांतम नाडर के नाम सामने आए।
अधिकारियों के मुताबिक़ भागने वाले आरोपियों ने गिनती और परेड के बीच के वक़्त का फायदा उठाकर भागे हैं। रोज की तरह सुबह दोनों उठे और अपने बैरेक में बैठे रहे। जब गिनती के लिए बुलाया गया तो दोनों बड़े आराम से सुबह 6.30 बजे के करीब गार्ड की नजर चुराकर बाथरूम के रास्ते जेल की दीवार के पास पहुंचे। जब सब बंदी गिनती के लिए कतार लगाने लगे दोनों ने सीसीटीवी कैमरे के लिए बिछाये गए वायर को  तोड़ा और उसे दीवार से लटका कर फरार हो गए ।
अब इस फुटेज के सामने आने के बाद जेल की सुरक्षा पर बेहद गंभीर सवाल उठ रहे हैं। आखिर इतने सुरक्षित जेल से दो बंदी आसानी से जेल की देववर फांदकर फरार हो गए और प्रशासन को इसकी भनक तक कैसे नहीं लगी।


Close Bitnami banner
Bitnami