दिल्ली से मुंबई चैन स्नेचिंग की वारदात को अंजाम देने आते थे स्नेचर हुए गिरफ्तार

मुंबई से सटे मीरा रोड पुलिस ने तीन ऐसे शातिर चैन स्नेचरों को गिरफ्तार किया है जो दिल्ली से आकर मुंबई और उसके आस पास के शहरों में चैन स्नेचिंग की वारदात को अंजाम देते थे। गिरफ्तार स्नेचरों पर सैकड़ों आपराधिक मामले दर्ज है। इन लोगों ने दीवाली से लेकर अबतक दर्जनों चैन स्नेचिंग की वारदात को अंजाम दिया है। गिराफ्तार हुए चैन स्नेचरों की पहचान आकाश सिंह,आकाश लाल, और विमल के तौर पर हुई है। जबकि इनका एक साथी भीखू अभी भी पुलिस की गिरफ्त से फरार है। पुलिस ने इनके पास से लूटे हुए 170 ग्राम गहने बरामद किए है।

मिरा रोड पुलिस की माने तो दिल्ली के रहने वाले भीखू और आकाश लाल मीरा रोड में रहने वाले अपने रिश्तेदार के घर पर आए हुए थे। यह पर आने के बाद दोनों ने आकाश सिंह और विमल के साथ मिलकर एक बाइक खरीदी और इसी बाइक से चैन स्नेचिंग की वारदात को अंजाम दिया और उसके बाद वापस दिल्ली भाग गए। पुलिस को चैन स्नेचिंग की शिकायत मिलने के बाद मामले की जांच में जुटी। जांच के दौरान पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज हाथ लगा जिसमे आरोपी वारदात को अंजाम देते समय कैमरे में कैद हुए थे। पुलिस ने इसी फुटेज की मदद से आरोपी आकाश सिंह और विमल को गिराफ्तार किया। उनसे कड़ाई से पूछताछ करने के बाद मीरा रोड पुलिस मुख्य आरोपी आकाश लाल और भीखू की तलाश में दिल्ली गई। और आकाश लाल को गिराफ्तार जबकि मुख्य अपराधी भीखू फरार है।

जानकारी के मुताबिक सिर्फ भीखू के ही ऊपर दिल्ली के अलग अलग पुलिस थाने में 70 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज है और वो ही इस गैंग को चलाता था।


Close Bitnami banner
Bitnami