Exclusive: मुंबई: पुलिस ने 24 घंटे में सुलझाई टैटू वाली बॉडी की गुत्थी, पति हिरासत में

मुंबई पुलिस ने समंदर किनारे मिली महिला की लाश की गुत्थी सुलझा ली है. पुलिस सूत्रों की मानें तो महिला के पति ने ही उसकी हत्या कर लाश लोखंडवाला के खाड़ी में फेंक दी थी. जो बहती हुई जुहू कोलीवाड़ा तक जा पहुंची. अब तक की पूछताछ में पति हत्या की वजह बताई है उसके मुताबिक़. उसने मोबाइल पर बातचीत को लेकर अपनी पत्नी की हत्या कर दी थी. फिलहाल पति प्रभु सहा से पूछताछ कर रही है.

मोबाइल पर ज़्यादा बात करना बनीं क़त्ल की वजह !

मुंबई पुलिस सूत्रों की मानें तो प्रभु को अपनी पत्नी शकुंतला शर्मा के चरित्र पर शक था. जिस वजह से दोनों के बीच अक्सर झगडे होते थे. पति पत्नी एक साथ मुंबई के वर्सोवा के कोटवाडी इलाके में रहते थे. वारदात वाली रात भी दोनों की इसी बात को लेकर कहा सुनी हुई थी जिसके बाद प्रभु ने पत्नी शकुंतला की गला दबाकर हत्या कर दी. फिर उसने शव को एक झोले में भरा और उसे अँधेरी के लोखंडवाला बैक रोड स्तिथ नाले में लाकर फेंक दिया. जिस रोज़ उसने शव को फेंका था उस दिन काफी बारिश हो रही थी और समन्दर में है टाइड होने की वजह से नाले कस स्तर भी ऊपर था. इसी कारण लाश से भरा बैग बहते हुए समन्दर में चला गया और जुहू के कोलीवाड़ा के किनारे में आकार मैन्ग्रोवेस में फँस गया था.

मुंबई के जुहू कोलीवाड़ा बीच पर मिली युवती की लाश

शकुंतला शर्मा के अनक्लेम्ड बॉडी कल मुंबई पुलिस को ये लाश जुहू के कोलीवाड़ा बीच पर मिली. प्रथम दृष्या में ही पुलिस का अंदाजा हो गया था की लाश हत्या कर फेंकी गयी है. जो दूर से बहते हुए वहां तक आ पहुंची थी. लाश एक बैग में था जो नीले रंग का था. पुलिस के पास सुराग के नाम पर बस इतनी जानकारी थी की उम्र 22 से 24 साल के बीच हो सकती है और उसके शरीर पर एक टैटू बना था.

टैटू ने दी क़ातिल की गवाही

मुंबई पुलिस सूत्रों की मानें तो शव की पहचान शकुंतला शर्मा के तौर पर हुई थी. सबसे पहले पुलिस ने उस इलाके से अपनी तफ्तीश शुरू की जो समन्दर के तट पर हैं. पुलिस को वहीँ से प्रभु की पत्नी शकुंतला शर्मा की जानकारी मिली. लोगों ने इस बात की तस्दीक़ की उसके श्री पर भी ऐसा ही ‘टिंकर बेल’ का टैटू था. जिसके बाद जब पुलिस ने उसके पति को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो वो टूट गया.

जल्द ही मुंबई पुलिस इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस क़त्ल की सही वजह सामने लाएगी.


Close Bitnami banner
Bitnami