Exclusive: कासकर के कारीगर चप्पल से करते थे दुश्मनों का खात्मा

ठाणे एक्सटॉरशन सेल के गिरफ्त में आए अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का भाई इक़बाल कासकर पुलिस को हर दिन नई कहानियां बता रहा है। वो हर दिन जांच एजेंसी के सामने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद और उसके व्यपार से जुड़े नए नए खुलासे करते जा रहा है। वहीँ इस मामले में पुलिस ने एक और शख्स को गिरफ्तार किया है।

जानिये की आखिर सुरक्षा एजेंसियों के नाक के नीचे डी गैंग का धंदा कैसे फल फूल रहा था। इक़बाल कासकर ने पूछताछ में खुलासा किया है डॉन दाऊद इब्राहिम अपने दुश्मनों का सफाया कारीगर के जरिए चप्पलों से करता था।ये कारीगर किसी फैक्टरी में काम करने वाला कोई मज़दूर नहीं है बल्कि दाऊद इब्राहिम गैंग अपने शूटरों को कारीगर कहते थे और चप्पल का मतलब हथियार होता था। पुलिस के गिरफ्त में आया इक़बाल कासकर ने अंडरवर्ल्ड और जबरन हफ्ता वसूली में होने वाले कोर्डवर्ड के बारे में बताया है। इक़बाल के मुताबिक डी गैंग के सारे कोड लीक हो चुके थे, जिसके बाद उनका पूरा ऑपरेशन नए कोड चलाया जा रहा था। जब कभी भी किसी अपराध को अंजाम देना होता था तो वो अपने शूटरों से कोर्डवर्ड के जरिए में बात करता था।

अगर उन्हें किसी बिल्डर के दफ्तर से पैसे उठाने होते थे तो उनकी बोलचाल की भाषा कुछ इस तरह होती थी। रेती सीमेंट के दफ्तर जाना और स्टॉक की डायरी लेकर आना। यदि काम फिर भी नहीं होता है तो धंदे को थोड़ा हाँथ लगा देना।

ये है अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम गैंग का नया कोर्डवर्ड्स :

दाऊद- बड़े

जानकारी- परफ्यूम

शकील- पाव टकला या सीएस

पीड़ित- मरीज

पैसा- डायरी

पासपोर्ट- पुट्ठा

शूटर- कारीगर

पुलिस वैन- डब्बा

पुलिस- गंदे लोग

इकबाल- सेठ

हथियार- चप्पल

ड्राइवर- हमल

धमकी- हाथ लगा दो

हत्या- धक्का देके आगे बढ़ो

एक करोड़- एक बॉक्स

एक लाख- एक डब्बा

फिलहाल इक़बाल कासकर को अदालत ने चार दिन के लिए और पुलिस हिरासत में भेज दिया है। तो वहीँ के इस मामले में पुलिस ने दाऊद के ख़ास साथी छोटा शकील को मोस्ट वांटेड अपराधी के सूची में डाल दिया है। पुलिस कि माने तो, कासकर जो मुंबई और उसके आसपास के शहरों में जबरन हफ्ता वसूली का धंदा चलता था। उसे डॉन दाऊद इब्राहिम का गुर्गा छोटा शकील ऑपरेट करता था।