‘शाहरुख खान’ से मिलाने का झांसा देकर लड़की को बेचा, ‘ऑपरेशन किंग खान’ ने पहुंचाया सलाखों के पीछे

पश्चिम बंगाल (West Bengal) से 17 साल की मासूम लड़की को बॉलीवुड (Bollywood) के किंग यानी शाहरुख खान (Shahrukh Khan) से मिलाने का झांसा देकर मुम्बई लाने वाले गिरोह का भांडाफोड़ करते हुए दादर जीआरपी (Dadar GRP) ने पीड़िता को रेस्क्यू करा लिया है. आरोपी की पहचान शुभन शेख के तौर पर हुई है. शुभन ह्यूमन ट्रैफिकिंग गैंग (Human Trafficking) का शातिर सदस्य है जिसे पुलिस ने मुंबई (Mumbai) के मीरा रोड (Mira Road) इलाक़े से गिरफ्तार किया है.

मिली जानकारी के मुताबिक़ पीड़िता कोलकत्ता (Kolkata) से 150 किलोमीटर दूर पालशिपारा (Palshipara) की रहने वाली थी. बताया जा रहा है कि आरोपी शुभन शेख ने पीड़ित लड़की को फेसबुक (Facebook) के जरिये अपने जाल में फंसाया था. लड़की को शक न हो इसलिए आरोपी ने अपने बेटे की फ़ोटो फॉसबुक पर प्रोफाइल पर लगाई हुई थी.

वहीं लड़की के झाँसे में आने के बाद आरोपी ने उसे बताया कि मैंने कोविड-19 (Covid-19) से संक्रमित हूं और तुम्हें लेने नहीं आ पाऊंगा. इसलिए तुम मेरे पिता के साथ मुम्बई आ जाओ. मैं उन्हें भेज रहा हूँ.

इसके बाद आरोपी फिर पालशिपारा पहुंचा जहां लड़की कोचिंग पढ़ने जाती थी. जिसके बाद दोनों वहां से रेलवे स्टेशन पहुंचे. लोकेशन ट्रैक (Location Track) न हो सके इसलिए आरोपी ने लड़की फोन में लगा सिम कार्ड (SIM Card) को तोड़ कर फेंक दिया. वहीं दूसरी तरफ़ काफ़ी देर हो जाने के बाद भी जब बेटी घर नहीं आई तो परिजनों ने स्थानीय पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई.

शिकायत मिलते ही पुलिस तुरंत हरकत में आई और सभी रेलवे स्टेशनों को इसकी सूचना दी. वहीं जब रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी फूटेज (CCTV Footage) को खंगाला गया आरोपी लड़की के साथ हावड़ा मेल (Howrah Mail) में सवार होते हुए नज़र आया. इसके बाद अधिकारियों ने दादर जीआरपी को सूचित किया. ट्रेन जैसे ही दादर पहुचीं तो वहां पहले से ही मुस्तैद दादर जीआरपी के जवानों ने आरोपी को धर दबोचा और लड़की को रेस्क्यू करा लिया.

दादर जीआरपी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक ध्यानेश्वर काटकर (Dhyaneshwar Katkar, Senior Police Inspector GRP Dadar) ने बताया कि हावड़ा जक्शन (Howrah Junction) पर सीसीटीवी फुटेज में लड़की दिखने के बाद पुलिस ने सभी रेलवे स्टेशन को अलर्ट किया था. जिसके चलते जैसे ही आरोपी लड़की को ट्रेन से लेकर पहुंचा हमने उसे गिरफ्तार कर लिया.

वहीं आरोपी की गिरफ़्तारी के बाद अब पुलिस यह जानने में जुटी है कि क्या लड़की को तस्करी के उद्देश्य से मुंबई लाया गया था या फिर कोई और वजह थी. साथ ही पुलिस ह्यूमन ट्रैफिकिंग गैंग (Human Trafficking Gang) से जुड़े अन्य लोगों की भी तलाश कर रही है जो आरोपी के साथ मिलकर मासूम लड़कियों को बहला फुसलाकर इस तरह के घिनोने कृत्य को अंजाम देते है.


Close Bitnami banner
Bitnami