आईएएस अधिकारी घुस लेते रंगे हाँथ गिरफ्तार

आदिवासी कल्याण विभाग के अतिरिक्त आयुक्त आईएएस अधिकारी मिलिंद गावड़े और उपायुक्त किरण माली को एंटी करप्शन ब्यूरो ने 12 लाख रुपए की घुस लेते गिरफ्तार किया है । आईएएस अधिकारी ने यह रिश्वत अपने विभाग में काम करने वाले 12 कर्मचारियों के प्रमोशन के बदले मांगी गई थी।  एंटी करप्शन ब्यूरो ने जब उनके दफ्तर में छापा मारा तो उनकी मेज़ से लाखो रूपये भी बरामद हुए हैं

आईएएस अधिकारी मिलिंद गावंडे 2008 बैच के आईएएस अधिकारी हैं और वह राज्य आदिवासी कल्याण विभाग में तैनात हैं।

एंटी करप्शन ब्यूरो को ये शिकायत मिली थी की आईएएस अधिकारी मिलिंद गावड़े और उपायुक्त किरण माली आश्रम स्कूल के जूनियर कर्मचारियों से प्रोमोशन के बदले लाखो रूपये रिश्वत मांगी है। एक कर्मचारी से एक लाख की डिमांड की गयी थी और कहा गया था की जब तक पैसे नहीं दिए जाएंगे किसी के भी प्रोमोशन लेटर पर हस्ताक्षर नहीं होगा।  जिसके कर्मचारियों ने इसकी शिकायत पालघर डिविजन की महाराष्ट्र एंटी करप्शन ब्यूरो को दे दी।

एसीबी ने ट्रैप लगाया और आईएएस अधिकारी और उनके सहयोगी को पैसे लेते रेंज हाँथ दबोच लिया गया। उपायुक्त किरण माली के ऑफिस डेस्क से एंटी करप्शन ब्यूरो12 लाख रुपए अतिरिक्त मिले हैं। बताया जा रहा है ये पैसे उन लोगों से लिए गए थे जिन्हें प्रोमोशन का वादा किया गया था। आईएएस अधिकारी मिलिंद गावड़े ठाणे स्थित आदिवासी कल्याण विभाग में अतिरिक्त आयुक्त के पद पर तैनात थे।