वक़्त पर नहीं पहुँचती पुलिस तो हो जाता मुंबई में भी एक और Mob Lynching, तेज रफ्तार जगुआर कार ने 4 को रौंदा

मुंबई के वर्सोवा इलाक़े में एक तेज रफ्तार जगुआर कार ने 7 लोगों को रौंदा डाला।कार चला रहा युवक इस क़दर नशे में तो था की उसे जो सामने दिखता उसे उड़ाता हुआ आगे निकल जाता। लेकिन लोगों ने उसका दूर तक पीछा किया और धार दबोचा। भीड़ इस क़दर ग़ुस्से में थे की जगुआर चला रहे युवक को डंडे और पत्थर से मार मार कर अदमरा कर दिया। लोग उसकी जान लेने पर तुले थे, मगर मौक़े पर पहुँची पुलिस ने बड़ी मुश्किल से उसे भीड़ से बचाकर निकाला। भीड़ ने युवक की जगुआर कार को भी तोड़ डाला। इस घटना के बाद आरोपी कार चालक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

 प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक घटना शाम साढ़े सात बजे की है। जगुआर कार ने जिन लोगों को रौंदा है उनमे से 4 की हालत चिंताजनक है। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद चालक को स्थानिक लोगों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया है।

कार चलाने वाले युवक की पहचान हितेश गालोचा के तौर लर हुई है। बताया जा रहा है हितेश NRI और कार चलाते वक़्त वो पूरी तरह नशे में था। वो इस क़दर ड्रग्स में डूबा हुआ लग रहा था की कार की स्टीरिंग भी उससे नहीं संभल रही थी। पहले तो उसने वर्सोवा महाड़ा के मस्जिद गली में कई गाड़ियों को टक्कर मारी फिर वहाँ से भाग के चक्कर में 12 लोगों को कुचलता चला गया। फिर लोगों ने उसकी गाड़ी का पीछा कर उसे पकड़ा।

भीड़ इस तरह ग़ुस्से में थी कि जिसके हाँथ जो आया उसने उससे युवक पर हमला बोल दिया। लोगों ने उसे मारते मारते अधमरा कर दिया। कई लोगों ने उसकी गाड़ी को भी चूर कर डाला। लोग उसे गाड़ी में डालकर ज़िंदा जलाने पर आमादा थे,तभी मौक़े पर पुलिस पहुँच गयी। पुलिस को भी कार चालक को भीड़ के हाँथों से निकलाने में। काफ़ी मशक़्क़त करनी पड़ी।

आरोपी युवक की हालत चिंताजनक है और उसका इलाज फ़िलहाल कोकिलाबेन अस्पताल में चल रहा है।

 


Close Bitnami banner
Bitnami