जेल में कुश कटारिया हत्याकांड के आरोपी की हत्या

नागपुर के चर्चित कुश कटारिया हत्याकांड के मुख्य आरोपी आयुष पुगलिया की नागपुर सेंट्रल जेल में हत्या कर दी गई है। बताया जा रहा है की आयुष की हत्या जेल के अंदर बड़ी निर्ममता से सर पर मार मार कर की गई है। आयुष की हत्या उस वक़्त की गई जब वो टॉयलेट जा रहा था तभी किसी ने पीछे से उसके सर पर टाइल्स से वार कर उसकी हत्या कर दी। टाइल्स की मार की वजह से आयुष के सर में गहरे ज़ख्म हुए थे और बहुत ज़्यादा खून बहने की वजह से उसकी मौत हो गई। लेकिन अब तक ये साफ़ नहीं है की उसकी हत्या किसी विवाद के बाद की गई या फिर वो किसी प्लैनिंग का हिस्सा था। फिलहाल नागपुर पुलिस सेन्ट्रल जेल पहुंचकर मामले की जांच में जुट गई है।

आयुष पुगलिया को नागपुर के चर्चित कुश कटारिया हत्याकांड में तिहरी उम्रकैद की सजा मिली थी। उस पर आरोप था की उसने गर्लफ्रेंड के शौक पूरे करने दिया हत्याकांड को अंजाम पहले मासूम कुश कटारिया का अपहरण किया और फिर उसकी हत्या कर दी। कुश नागपुर के मशहूर सुरुचि मसाले कम्पनी के मालिक प्रशांत कटारिया का बेटा था। पड़ोस में ही रहने वाले आयुष पुगलिया ने 11 अक्टूबर 2011 को बच्चे का किडनैप कर उसकी हत्या कर दी थी.


Close Bitnami banner
Bitnami