जुड़वा बेटियों को जन्म देने के बाद ससुराल वालों से परेशान बहु ने दी जान

पुणे के चिंचवाड़ में एक महिला ने ससुराल वालों से परेशान होकर अपनी जान दे दी.महिला का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने जुड़वा लड़की को जन्म दिया.

जिसके बाद उसके ससुराल वाले उसे मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित करने लगे. जिससे ऊब कर महिला ने जहर पीकर अपनी जिंदगी ही समाप्त कर ली.बेटी के मौत के बाद उसकी माँ ने बेटी के ससुराल वालों के खिलाफ चिंचवाड़ा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई, जिसके बाद पुलिस ने महिला के पति और ससुराल वालों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर मामले की जांच कर रही है.

महिला की माँ के मुताबिक उनकी बेटी की शादी 2009 में हुई थी.लेकिन शादी को पांच साल बीत जाने के बाद भी उसे बच्चा नहीं हुआ .बच्चा न होने पर महिला का पति और उसके ससुराल वाले उसे प्रताड़ित करने लगे थे.जिससे परेशान महिला ने बेबी टियूब से बच्चे को जन्म देने का निर्णय लिया.महिला के गर्भवती होने के बाद भी उसके ससुराल वाले उसे जबरदस्ती घर का काम करवाना चाहते थे.लेकिन खोख में जुड़वा बच्चा पलने के नाते महिला ने साफ़ मना कर दिया कि वजन ज्यादा हो गया है जिसकी वजह से उससे काम नहीं किया जा रहा है.फिर भी ससुराल वाले कहाँ मानने वाले थे. काम न करने पर उसे मारते पीटते थे.जिससे ऊब कर वो अपने मायके चली गयी थी. वहाँ जाने के बाद उसके पति ने उसे वापस अपने घर लेकर आया. मारपीटकर उससे वापस काम करवाने लगा.

इसी बीच महिला ने जुड़वे बच्ची को जन्म दिया लेकिन उसके ससुराल वालों को घर मे लक्ष्मी का आना राश नहीं आया. वे महिला को परेशान करने लगे जिससे ऊबकर महिला ने अपनी जिंदगी समाप्त करने का निर्णय लिया और जहर पीकर ख़ुदकुशी कर ली.घटना के बाद महिला को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन शरीर में विष तेजी से फैलने कि वजह से उसकी मौत हो गयी.⁠⁠⁠⁠


Close Bitnami banner
Bitnami