लड़की से छेड़खानी नहीं मदद के लिए लगा रहा था हाँथ, सामने आया एक नया वीडियो

मुंबई में एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर भगदड़ में कई लोगों की जान चली गई। इसके बाद इस घटना का एक वीडियो वायरल होने लगा था। आरोप लग रहे थे की एक शख्स भगदड़ में दबी एक महिला के साथ छेड़छाड़ करता दिख रहा है। वीडियो वायरल होने के बाद अब पुलिस इसकी जांच में जुट गई थी। अब इस मामले में एक और वीडियो सामने आया है। पिछले वीडियो से ये वीडियो ज़्यादा समय का है और इस वीडियो में वही शख्स दिखाई दे रहा है। इसके साथ कुछ लोग भी दिखाई दे रहे हैं। जो लगातार उसे निर्देश दे रहे हैं, कुछ बता रहे हैं।

देखिये वीडियो : 

पहले जो वीडियो सामने आया था वो महज़ आठ सेकंड का था। लेकिन अब एक और वीडियो सामने आया है जो 42 सेकंड का है और अगर इस वीडियो को देखा जाए तो कहानी कुछ और नज़र आती है। दरअसल सफ़ेद टी शर्ट में जिस लड़के पर काली टी शर्ट वाली लड़की के साथ बदसलूखी का आरोप लग रहा है उस वक़्त वो जीवित थी। और वो खुद उस युवक को उसे बहार खींचने के लिए कह रही है। युवक भी उसे खींचने की पूरी कोशिश करता है, लेकिन वो कामयाब नहीं हो पाता है। वो बेबसी में फँसी लड़की का कभी कंधा पकड़ कर खींचता है, तो कभी छाती को नीचे दबाकर बहार निकलने की कोशिश करता है। मतलब वह उसे बचने की कोशिश कर रहा है। उसकी इस कोशिश में लड़की का आधा शरीर बहार आ जाता है। लेकिन उसके पैर अंदर ही फंसे रह जाते हैं। नीचे खड़े लोग युवक को लगातार निर्देश देते सुनाई दे रहे हैं। जो कभी उसे हाँथ से पकड़कर खींचने को कहते हैं, तो कभी ये कहकर रूक जाने को कहते हैं की ज़्यादा ज़ोर लगाया तो लड़की के पैर टूट जाएंगे। उस वक़्त वहां मौजूद किसी भी शख्स या खुद उस लड़की को ऐसा नहीं लगा की युवक उसका फायदा उठा रहा है।

यानी सोशल मीडिया में बिना किसी जांच के ही इस युवक को आरोपी बना दिया गया। ये बताने की कोशिश कर दी गई की युवक भगदड़ में दबी महिला के साथ छेड़छाड़ कर रहा है। लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं था।

ये भी पढ़ें 

बेहद क्रुर है मुंबई का ये चेहरा, मौत स जुझ रही महीला के साथ छेड़छाड़

पहले पोस्ट किया गया वीडियो : 

इस मामले के सामने आने के बाद दादर पुलिस इसकी जांच में जुट गई थी। वो ये पता लगाने में लगी थी की क्या सही में मदद के नाम पर उस युवक ने मुसीबत में फँसी एक महिला की मजबूरी का फायदा उठाने की कोशिश की थी। इस पहेली को सुलझाने के लिए मुंबई पुलिस ने करीब 35 लोगों के बयान भी लिए। इलाके के पुलिस उपायुक्त जोन 5 राजीव जैन ने भी बताया की, हम उस वायरल वीडियो की सच्चाई की भी जांच कर रहे हैं, जिसमें ऐसा प्रतीत हो रहा है की एक शख्श फंस गई महिला का लाभ उठा रहा है। हम वीडियो में दिख रहे आदमी की तलाश कर रहे हैं। इसके इलावा पुलिस ने मौके पर मौजूद कई और लोगों से भी कई अन्य वीडियो जुटाए थे।


Close Bitnami banner
Bitnami