CrimeMaharashtra/GoaTop Stories

सुलझ गई डॉक्टर के क़त्ल की गुत्थी, 100 डॉक्टरों से हुई पूछताछ क़ातिल निकला कोई और …

0
UP labourer murders student in Aurangabad hostel for resisting
UP labourer murders student in Aurangabad hostel for resisting

महाराष्ट्र के औरंगाबाद के एक निजी मडिकल कॉलेज की छात्रा की लाश मिलने से हड़कंप मचा हुआ है. छात्र फिजियोथेरेपी पोस्ट ग्रेजुएशन कर रही थी और उसकी लाश बेहद संदेहास्पद तरीके से उसके ही कमरे से मिली थी. शहर की सिडको पुलिस ने पहले तो इसे आत्महत्या का मामला माना. लेकिन पोस्टोरटेम रिपोर्ट ने पुलिस की पोल खोल कर रख दी. आरोप है की निजी मेडिकल कॉलेज को बचने के चक्कर में पुलिस हत्या के इस मामले को आत्म हत्या साबित कर कॉलेज को बचाना चाहती थी. विरोध के पुलिस ने अज्ञात शख्स के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी. पोस्टमॉर्टेम में सामने आया था की लड़की की हत्या गला दबाकर की गयी थी.

22 साल की छात्रा आकांशा देशमुख बीड के मजलगाँव की रहने वाली थी और हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रही थी. मंगलवार को जब उसकी रूम मेट कमरे में पहुंची थी. तो आकांशा बेसुध पड़ी मिली थी. उसे फ़ौरन अस्पताल ले जाया गया था जहाँ डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था. कॉलेज के अंदर बने हॉस्टल में हुई इस हत्याकांड के बाद पूरे शहर में बवाल मच गया था. लोग सड़क पर उतारकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. सोशल मीडिया पर भी ‪#‎justice4akanksha की मुहीम की रफ़्तार पकड़ रही थी. दबाव में आई औरंगाबाद पुलिस ने करीब एक हफ्ते बाद इस मामले में गिरफ्तारी कर हत्या सुलझाने का दावा किया है.

रेप की नियत से घुसा था आरोपी

अब इस मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए एक शख्स को गिरफ्तार किया है. पकडे गए आरोपी की शिनाख्त राहुल शर्मा के तौर पर हुई है. आरोपी उत्तर प्रदेश का रहने वाला है और मज़दूर का काम करता है. पूछताछ में आरोपी ने खुलासा किया है की उसी ने आकांशा की गला दबाकर हत्या की है. वो उसके कमरे में रेप की नियत से घुसा था. जब वो नाकाम रहा तो पकडे जाने के डर से उसने लड़की की हत्या कर दी और फरार हो गया.

हॉस्टल के चप्पे चप्पे से वाक़िफ़ था आरोपी

गिरफ्तार आरोपी राहुल शर्मा हॉस्टल के ठीक पीछे हो रहे निर्माण में बतौर मज़दूर काम करता था. वो रात को हॉस्टल के पीछे बने मज़दूरों के टेंट में ही रहता था. उसने कई बार आकांशा को अकेले कमरे में देखा था. बस इसी लिए उसकी नियत ख़राब हो गयी. उसे पता था की हॉस्टल में कमरों के आस पास SISITIVI फुटेज कहाँ कहाँ है.

वारदात वाली दिन वो पीछे के रास्ते पाइप से ऊपर चढ़ा था. फिर कैमरों से बचने के लिए ज़मीन में रेंगते हुए वो आकांशा के कमरे तक पहुंचा. उस वक़्त आकांशा सो रही थी. इसी का फायदा उठाकर उसने रेप की कोशिश की. मगर जब लड़की ने चिल्लाने की कोशिश की तो उसने उसका गला दबाकर हत्या कर दी और फरार हो गया.

आरोपी ने पहचान छुपाने के लिए अपने सिर के बाल और दाढ़ी कटवा ली थी और फरार होने के फ़िराक में था. लेकिन औरंगाबाद पुलिस ने उसे ट्रेन से गिरफ्तार कर लिया.

Nishat Shamsi

फिर एक्शन में राज ठाकरे – कहा मंत्री नहीं सुनते तो उनपर प्याज़ फेंक कर जताएं अपना विरोध

Previous article

VIDEO: मुंबई: अब गटर में नहीं होगी इंसानों की मौत, रोबोट बचाएगा उनकी जान

Next article

Comments

Comments are closed.

Login/Sign up
Bitnami