Crime

मुंबई में नाईट गैंग चोरों का आतंक, अँधेरा होते ही जो जाते हैं सक्रीय

0

मुंबई उपनगर के लोग इन दिनों चोरों के आतंक से काफी परेशान हो चुके है। ये चोर रात के अँधेरे में चोरी की वारदात को अंजाम देते है.जिससे लोगों के दिल में डर पैदा हो गया है. ये चोर रात के अँधेरे में कभी मंदिर का ताला तोड़कर दान पेटी उड़ा लेते है तो, कभी मेडिकल शॉप में ताला तोड़कर चोरी कर लेते है। अब इन्होने अपना निशाना पार्किंग में खड़े गाड़ियों को बना रहे है। इसी गिरोह के आदमी ने कुछ ही दिन पहले कांदिवली में पार्किंग में खड़ी एक औटो रिक्शा  को बड़े शातिराना अंदाज़ से लेकर रफूचक्कर हो गया। लेकिन शायद उसे इसका अंदाज़ा नहीं था कि उसकी ये करतूत सीसीटीवी फुटेज में कैद हो रही है।

इस गैंग के एक सदस्य ने 14 जुलाई की रात 2 बजे वाईटम वाईट कपड़ा पहनकर साई नगर के पार्किंग में खड़ा एक ऑटो रिक्शा के पास जाता गया और 2 से 4 मिनट के बाद वह बड़ी ही शातिराना तरीके से उस ऑटो रिक्शा को चालू कर ले उड़ता है। इसमें हैरानी वाली बात तो ये है ये घटना पुलिस चौकी से कुछ ही मीटर कि दुरी पर हुई है।

जब सुबह रिक्शा मालिक गाडी मौके पर नहीं देखा तो वो हैरान हो गया। जिसके बाद रिक्शा मालिक चन्द्रमणि गुप्त ने आस पास के लोगों से पूछताछ कि लेकिन किसिकों उसके बारे में जानकारी नहीं थी। उसके बाद हैरान परेशान रिक्शा मालिक कांदिवली पुलिस स्टेशन जाकर रिक्शा घूम होने कि शिकायत दर्ज करवाई। उसके एक दिन बाद चन्द्रमणि गुप्त के सहकर्मी ने बताया कि उनका रिक्शा उन्होंने एमजी रोड पर लक्ष्मी मन्दिर के पास देखा। जब रिक्शा मालिक गुप्ता रिक्शे के पास गए तो उनके रिक्शा का कीमती पार्ट उनके गाडी से गायब मिला।

मुंबई  उपनगर के  गोरेगांव, मालाड, कांदीवली, और दहिसर पश्चिम के इलाके में पिछले कुछ महीनों से नाईट गैंग चोर कुछ ज्यादा ही सक्रिय हो गया हैं। यह नाईट गैंग पिछले कुछ महीनों में चोरी कि कई घटनाओं को अंजाम दे चूका है। और लगातार एक के बाद एक चोरी कि घटनाओं को अंजाम देते जा रहे है। लोगों  ने मुंबई उपनगर के विभिन पुलिस थाने में चोरी कि शिकायत दर्ज करवाई है। पुलिस इन चोरों को पकड़ने के बजाये हाथ पर हाथ धरे बैठी हुई है।

Tahir Beig

स्पा की आड़ में नाबालिग से छेड़छाड़, आरोपी गिरफ्तार मीरा रोड की घटना

Previous article

शादी का पुराना वादा निभाना चाहता है डॉन अबु सलेम, कोर्ट से मांगी इजाजत

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami