पालघर हादसे में मलबे से मिली 3 लाशें, कई मजदुर अब भी लापता।

पालघर जिले के बोइसर तारापूर औद्योगिक क्षेत्र में लगी आग में बहुत हद तक क़ाबू पा लिया गया है। जिले के एसपी के मुताबिक फिल्हाल आग को ठंडा करनें और सर्च का काम चल रहा है। इसी सर्च में आग ले जले मलबों के बीच तीन जला हुई लाशें मिली हैं। लाशें बुरी से जल चुकी हैं जिनकी पहचान करना बेहद मुश्किल लगा रहा है। इसके इलावा कई काम करनें वाले लोग और मजदुर की भी जानकारी नहीं मिल रही है, जिनकी तलाश जारी है।

लाशें बॉयलर के ठीक पास में मिला है. आशंका है कि ये वही मज़दूर हो सकते हैं जो हादसे के समय वंहा पर काम कर रहे थे।

गुरूवार रात को मुंबई के पास पालघर जिले के बोइसर तारापूर औद्योगिक क्षेत्र मे रात 11 बजे के आसपास केमिकल कंपनी के बॉयलर मे जोरदार ब्लास्ट के बाद लगी भीषण आग लग गई थी। धमाके इतना जबरदस्त था कि आसपास के घरो की खिड़कीयों के शीशे तक टूट गए थे। जबकि 10 कि मी दूरी तक धमाके की आवाज सुनाई दिया था।

केमिकल बनानें वाली कंपनी नोवाफिन स्पेशलिटि में जब लोग काम कर रहे थे तो अचानक बॉयलर फट गया, जिसकी चपेट मे आस पास काम कर रहे कई लोग आ गए। फिर देखते ही देखते आग फैलती चली गई और आस पास की कई कंपनियाँ भी आग के जद में आ गईं।

आग बुझाने के लिए दमकल की एक दर्जन से अधिक गाड़ियां मौके पर पहुंच बुलाई गई है। आग इतना भयानक है कि आसपास की अन्य कंपनियों को अपने चपेट में ले लिया।

मौक़े पर मौजूद अधिकारीयों के मुताबिक, हादसे में तीन लोग बुरी तरह झुलस गए और उनकी हालत चिंताजनक हैं। अन्य चौदह घायल है जिन्हें पास के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

फिल्हाल आग पर क़ाबू नहीं पा जा सका है। आग बुझानें के लिए आस पास से भी कई और गाड़ियों को बुलाया गया हाँ ताकि आग पर जल्द से जल्द क़ाबू पाया जा सके।

 


Close Bitnami banner
Bitnami