खुद पुलिस वाला ही हो गया क्लोनिंग गैंग का शिकार, सामने ही उड़ा ले गए 39 हजार रुपये

अगर रक्षा करने वाले ही सुरक्षित नहीं होंगे तो आम जनता की सोंचिये ? मुंबई के पास वसई में एक पुलिस वाले ही ठगी का शिकार हो गया। ठग पुलिस वाले के सामने ही उसके आंखों में धूल झोंककर उसके एटीएम से 39 हजार रुपये निकाल ले गए और पुलिसवाले को इसकी भनक तक नहीं लगी। अब जब मामला सामने आया तो सभी एक दुसरे को मुहं देख रहे हैं। लेकिन ठगी की ये पूरी वारदात वहां लगे सीसीटीवी में क़ैद हो गयी है…..

जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक़, वसई थाने में तैनात सहायक पुलिस निरीक्षक वंसत गणपत वायदंडे एसबीआय बैंक के एटीएम में अपना आधार कार्ड अपडेट करने गए थे। ATM थाने से महज़ कुछ दूर पर वसई पश्चिम के बभोला नाका के पास है । जैसे ही वो एटीएम में गए पीछे से एक युवक भी घुस आया। गणपत वायदंडे ने जब उन्होंने अपना ATM कार्ड मशीन में डाला तो आधार कार्ड नंबर डालने का ऑप्शन आया। लेकिन अक्षर छोटे होने की वजह से उन्हें साफ़ नहीं दिख रहा था। तभी उन्होंने पीछे से आये युवक को अपना आधार कार्ड दिया और नंबर बताने को कहा।

आधार कार्ड अपडेट करने के बाद उन्होंने अपने खाते से एक हज़ार भी निकाले। ठीक उसी वक़्त उस शख्स ने चलाकी दिखते हुए उनका कार्ड बदल दिया। जैसे ही वो एटीएम से बाहर निकले उस शख्स ने उनके खाते से 39 हजार रुपये निकाल लिए। ठगी की पूरी वारदात एटीएम में लगे सीसीटीवी में कैद हो गई है।

 


Close Bitnami banner
Bitnami