दोस्तों ने ही रची थी निहाल के क़त्ल की पूरी साज़िश

पुणे के राजवाड़ा होटल में निहाल नानेकर आत्महत्या के मामले में नया मोड़ आ गया है। निहाल नानेकर ने होटल राजवाड़ा में आत्महत्या नहीं बल्कि दोस्तों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी और फिर उसके बाद पुलिस के सामने आत्महत्या की कहानी रच डाली। लेकिन जैसे जैसे तफ्तीश आगे बढ़ी आत्महत्या की कहानी में दरार पड़ने लगे। पुलिस को ये समझ आने लगा जो दिखाया जा रहा है कहानी उससे आगे की है। अब पुणे पुलिस ने इस मामले में निहाल के दोनों दोस्तों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल निहाल के दोस्त पुलिस के गिरफ्त से बाहर है।

बता दे कि निहाल नानेकर चिंचवडा विक्की घोलप के ग्रुप का लड़का था। कुछ दिनों पहले उसके जिगरी दोस्त आकाश लांडगे कि भी हत्या कर दी गयी थी। आकाश के हत्या के बाद निहाल अपने दोस्त विक्की और संकेत सातनकर के साथ लोनावला घूमने गया था। वहां से वापस लौटते समय दोनों पुणे के कामशेत में राजवाड़ा होटल में नाश्ता के लिए रुके थे। और होटल में खाने का आर्डर दिया। तभी अचानक होटल में गोली चलने की आवाज़ सुनाई दी जब होटल मालिक ने पास जाकर देखा की निहाल लहूलुहान होकर फर्श पर पड़ा था। किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा था की ये क़त्ल है या फिर आत्महत्या. होटल मालिक और उसको दोस्तों ने उसे अस्पताल लेकर गए जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

जब मौके पर पहुंची पुलिस ने तफ्तीश शुरू की तो उसके दोस्तों ने बताया की आकाश की हत्या के बाद से निहाल डिप्रेशन में चल रहा था और उसने कई बार ख़ुदकुशी करने तक की बात कही थी। पुलिस ने भी दोस्तों के ही बयान को आधार मान कर अपनी तफ्तीश आत्महत्या की तरफ मोड़ दी।

लेकिन कहते हैं न की अपराधी कितना भी शातिर क्यों न हो वो गलती ज़रूर करता है। इस मामले में भी निहाल के दोस्तों ने भी गलती कर दी। उन्होंने पुलिस को दिए बयान में कहा था की जब वो खाना खा रहे थे तभी निहाल के फ़ोन पर किसी अज्ञात शख्स का फ़ोन आया था। निहाल उनके सामने ही बात कर रहा था। सामने वाला निहाल को उसके दोस्त आकाश लांडगे की हत्या से जुडी कुछ खबर दे रहा था। निहाल बात करते उनसे अलग हुआ और खुद को गोली मार ली। फ़ोन करने वाले शख्स ने निहाल को आकाश की हत्या में उसकी गर्लफ्रेंड से जुडी कुछ बात कही थी जिसे वो बर्दाश्त नहीं कर पाया। पुलिस को शक है की उसके दोस्तों ने उनलोगों का साथ दिया है। जिन लोगों ने आकाश की हत्या की थी। फ़िलहाल दोनों दोस्त फरार हैं और पुलिस उनकी गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।


Close Bitnami banner
Bitnami