Bollywood CrimeCrimeTop StoriesTrending News

NCB की बड़ी कार्यवाही Sushant Singh Rajput के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी को हैदराबाद से गिरफ्तार किया

0

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने गिरफ्तार कर लिया है। यह गिरफ्तारी ड्रग्स केस में की गई है। सिद्धार्थ पिठानी की गिरफ्तारी हैदराबाद से हुई है। एनसीबी की एक टीम सिद्धार्थ पिठानी को मुंबई ला रही है, जहां उससे पूछताछ की जाएगी। इससे पहले कई बार सीबीआई भी सिद्धार्थ पिठानी से पूछताछ कर चुकी है।

सिद्धार्थ पिठानी, सुशांत सिंह राजपूत के साथ उन्हीं के फ्लैट में रहते थे। सुशांत के शव को सबसे पहले देखने वालों में से सिद्धार्थ एक थे और उन्होंने ही सबसे पहले पुलिस और एम्बुलेंस को बुलाया था।

सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी ने पिछले हफ्ते ही सगाई की है। सिद्धार्थ पिठानी की सगाई की तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुई थीं। अभिनेता की मौत के बाद सिद्धार्थ का नाम सबसे ज्यादा सुर्ख़ियों में आया था। उन्हें सुशांत के सबसे करीब भी माना जाता था।

14 जून को सुशांत का शव बांद्रा के जिस फ्लैट में लटका मिला था, उसमें उस वक्त चार लोग थे। सिद्धार्थ पिठानी, दीपेश सावंत, नीरज सिंह , केशव । नीरज ने एक बातचीत में सुशांत की मौत से पहले की कहानी सुनाई थी।उसने बताया था कि सुशांत ने सुबह नाश्ता किया था। लेकिन जब 10:00-10:30 बजे स्टाफ उनसे यह पूछने गया कि लंच में क्या बनाना है तो उन्होंने दरवाजा नहीं खोला।

करीब एक घंटे बाद सिद्धार्थ को कुछ गड़बड़ होने का संदेह हुआ। उसने मीतू को फोन कर दिया और चाबी वाले को बुलाकर लॉक खुलवाया। बताया जा रहा है कि कमरे में सबसे पहले सिद्धार्थ ही गया था और सुशांत को पंखे से लटका देख घबरा गया था। फिर उसने सुशांत को पंखे से नीचे उतारा था। इसके बाद सुशांत की बहन मीतू भी आ गईं और मुंबई पुलिस ने आकर जांच शुरू कर दी। मुंबई पुलिस भी यह बयान दे चुकी है कि उन्होंने भी सुशांत को फंदे से लटका नहीं देखा था।

Nishat Shamsi

सुशांत सिंह राजपूत की पहली डेथ एनिवर्सरी से पहले रिया चक्रवर्ती का पोस्ट, लिखा- बड़े दर्द से बड़ी ताकत मिलती है

Previous article

बैंगलोर पुलिस ने वायरल वीडियो गैंगरेप मामले में पांच बांग्लादेशियों को गिरफ्तार किया, असम पुलिस ने शेयर किया था वीडियो

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami