टाटा फाइनेंस के पूर्व एमडी ने की ख़ुदकुशी

मुंबई में टाटा फाइनेंस के पूर्व एमडी ने अपने ही घर में फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली है। पूर्व एमडी ने अपने सुसाइड नोट में कई गंभीर आरोप लगाए हैं।

उन्होंने लिखा है की जिस तरह से उनके ऊपर झूठे मुक़दमे लादे जा रहे हैं। वो उससे परेशान हो चुके हैं और अब उनके पास अपनी ज़िन्दगी ख़त्म करने के इलावा कोई चारा नहीं बचा है।

माटुंगा पुलिस को ये जानकारी पूर्व एमडी दिलीप पेंडसे के पड़ोसियों द्वारा मिली। उन्होंने ने पुलिस को फ़ोन कर बताया की पूर्व एमडी दिलीप पेंडसे की लाश उनके फ़्लैट के छत से लटकी पाई गयी है। वो दादर में अपनी दूसरी पत्नी के साथ रॉयल ग्रेस नामक बिल्डिंग में रहते थे। उसी बिल्डिंग में उनका एक कार्यालय भी है। वो सुबह 9 बजे अपने कार्यालय में आये। लेकिन जब काफी समय बीत गया वो कार्यालय से बाहर नही आये तो आस पास के लोगों को शक हुआ। बुधवार दोपहर करीब 2:30 बजे लोगों ने माटुंगा पुलिस को इसकी सुचना दी।

मौके पर पहुची पुलिस ने जब उनके कार्यालय के अंदर जाकर देखा तो दिलीप पेंडसे ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। पुलिस को मौके पर एक सुसाइड नोट भी मिला है जिसमे दिलीप पेंडसे ने आत्महत्या का जिक्र किया है। उन्होंने लिखा है की उनके ऊपर कई सारे केस चल रहे हैं अब वो इन सबका भर नहीं उठा सकते।

2001 में पेंडसे टाटा फाइनेंस में एमडी की पड़ पर कार्यरत थे। लेकिन कंपनी घाटे में जाने की वजह से टाटा समूह ने उनपर कार्यवाही की ।और उनके खिलाफ मामला भी दर्ज करवाया था। जिसके वजह से उन्हें कुछ महीने उन्हें जेल में भी बिताने पढ़े थे।


Close Bitnami banner
Bitnami