बिहार में दो पत्रकारों की गाड़ी से कुचलकर हत्या, पूर्व मुखिया के पति पर आरोप

बिहार के आरा से जंगलराज की एक और ख़ौफ़नाक तस्वीर सामने आ रही है। राजधानी कुछ किलोमीटर दूर भोजपुर आरा में दो पत्रकारों की गाड़ी कुचलकर दी गयी है।दोनों पत्रकार के हत्या का आरोप इलाके के पूर्व मुखिया पति पर है, घटना के बाद से हर इलाक़े में तनाव की स्थिति बनी हुई है।

पत्रकारों की स्कॉर्पियो से कुचल कर की गई हत्या
पत्रकारों के हत्या के आरोपी जुड़ी कई जानकारी पुलिस सामने आयी है। पत्रकारों को कुचलने वाला शख़्स आरा गड़हनी का अहमद अली उर्फ हरशू मिया है। हरशु मियाँ इलाक़े के पूर्व मुखिया संजीदा प्रवीण का पति है।

 

ड्रग्स तस्करी की ख़बर को लेकर था विवाद
बताया जा रहा है कि दोनों पत्रकारों का जिले के गड़हनी पंचायत के पूर्व मुखिया हरशु से विवाद चल रहा था। किसी खबर को लेकर पत्रकारों और पूर्व मुखिया में काफी दिनों से अनबन चल रही थी। मुखिया ने पहले भी दोनों पत्रकारों को धमकी दी थी। गड़हनी पंचायत के पूर्व मुखिया पर हत्या को अंजाम देने का आरोप लग रहा है।दैनिक भास्कर के गड़हनी प्रखंड संवाददाता नवीन सिंह और एक पत्रिका से जुड़े प्रखंड संवाददाता विनोद सिंह की हत्या में पूर्व मुखिया का नाम आया है।

कुख्यात है परिवार
हरशु मियाँ की इलाके में गंजा माफिया के रूप में पहचान है। इसके दो बेटे है डब्लू और मकबूल दोनों कई मामले दर्ज और वो इलाक़े में काफ़ी कुख्यात है। तीन वर्ष पूर्व गड़हनी में हुए दंगा में भी इन बाप बेटों को आरोपी बनाया गया था। बेटा हाल ही में जेल से जमानत पर बाहर आया है।रविवार की शाम गड़हनी बाजार में हरसू मुखिया से नवीन सिंह की तू तू मैं मैं भी हुई थी।जिसके बाद जैसे ही नवीन सिंह और विनोद सिंह घर जाने के लिए निकले मुखिया ने अपनी गाड़ी से पीछा किया।और फिर इन्हें टक्कर मारा।घटना के बाद वह अपनी स्कोर्पियो छोड़ पीछे से आ रही बाइक पर बैठ कर भाग गया। लेकिन कई लोगो ने उसे देख लिया और फिर ग्रामीणों ने स्कोर्पियो को जला दिया।हरसू मुखिया के घर पर भी तोड़फोड़ किया गया हैं। शुरू में मामले को सिर्फ सड़क दुर्घटना में रही जिला पुलिस को भी अब घटना साजिश लग रही है।एसपी ने आरोपियों की गिरफ्तारी का आदेश दिया है।


Close Bitnami banner
Bitnami