CrimeTop Stories

VIDEO: शिवसेना नेता सचिन सावंत की हत्या दोस्त ने ही कराई

0

शिवसेना नेता सचिन सावंत का क़त्ल किसी और ने नहीं बल्कि उसके ही दोस्त ने कराई थी. ये खुलासा किसी और ने नहीं बल्कि मुंबई पुलिस ने किया है. पुलिस के मुताबिक सचिन सावंत की हत्या के लिए 10 लाख और शूटरों को मुंबई के अलग अलग इलाके में घर देने की सुपारी उसी के ही करीबी दोस्त नीलेश रामशंकर शर्मा ने दी थी. पुलिस ने इस मामले में कुल सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जिनमे से 6 की गिरफ़्तारी उत्तर प्रदेश से की गई है.

22 अप्रैल की रात 8 बजे सचिन सावंत मीटिंग कर बाइक से जब अपने घर की तरफ जाने के लिए निकले थे. तभी एक बाइक सवार दो अपराधियों ने गोकुल नगर के पास सचिन सावंत की गोली मरकर हत्या कर दी थी.

अपर पुलिस आयुक्त राजेश प्रधान ने बताया की सचिन सावंत के हत्यारों को पकड़ना पुलिस के लिए बहुत बड़ा चैलेंज था. क्योंकि पुलिस के पास कोई सुराग नही था. लेकिन 15 दिन की कड़ी मेहनत के बाद आखिरकार कुरार पुलिस की टीम 1.लोकेश सिंह (25), 2.अभय उर्फ बरक्या किसन सालुंखे पाटिल (26), 3.सत्येंद्र उर्फ सोनू रामजी पाल (24), 4.नीलेश रामशंकर शर्मा (27), 5.बृजेश उर्फ ब्रिजा नाथूराम पटेल (28), 6.और 7.अमित सिंह (25) नाम के आरोपियों को गिरफ्तार कर बड़ी कामयाबी हासिल की हैं.

पुलिस ने बताया की सचिन सावंत और आरोपी ब्रिजेश पटेल दोनों ही मालाड पूर्व के गोकुल नगर में एक बिल्डर के लिए SRA  प्रोजेक्ट पर काम करते थे. जिसके लिए दोनों ने अपना अलग अलग ऑफिस खोलकर रखा था. 11 अप्रैल को इस इलाके में एक स्लम सर्वे हुआ था. जिसके बाद दोनों गुटों में मनमुटाव हो गया था. आरोपी निलेश शर्मा भी सचिन का पुराना साथी था. लेकिन सर्वे के बाद उसने भी सचिन सावंत के साथ छोड़ दिया. मुख्य आरोपी बृजेश पटेल और नीलेश शर्मा ने इस SRA प्रोजेक्ट से सचिन सावंत को हटाने के लिए ड्राइवर का काम करने वाले लोकेश सिंह और नालासोपारा में रहने वाले अभय पाटिल को जान से मारने के लिए 10 लाख कैश और घर की सुपारी दे दी.

पुलिस को जांच के दौरान पता चला कि ब्रिजेश पटेल ने घटना को अंजाम देने से पहले शूटरों को 3 तीन लाख रुपये दिए थे. और बाकी का रकम काम होने के बाद देने वाले थे. घटना के बाद कुरार पुलिस के सह पुलिस निरीक्षक गोरख घार्गे और उनकी कड़ी मेहनत के बाद पता चला कि इस मामले से जुड़े सभी आरोपी यूपी में जाकर छुपे हुए हैं. फिर तुरंत इनकी टीम यूपी गयी और स्थानीय पुलिस की मदत से सभी आरोपियों को पकड़ने में बड़ी कामयाबी हासिल की.

आरोपियों के पास से पुलिस ने 2 बंदूक बरामद की हैं जो नालासोपारा के रहने वाले आरोपी ने प्रोवाइड करवाई थी. कुरार पुलिस आईपीसी की धारा 302, 307, 34 के तहत आरोपियों को गिरफ्तार कर बोरीवली कोर्ट में आज हाजिर की जहा सभी को 14 मई तक पुलिस कस्टडी मिला हैं.

VIRAL : रोहित शर्मा ने शेयर की पत्नी रितिका संग फोटो, युजवेंद्र चहल ने कमेंट करते हुए लिखा ..

Previous article

पिता मुकेश अंबानी के साथ इस गाने पर डांस कर रहीं थीं ईशा अंबानी, वीडियो हुआ वायरल

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami