VIDEO: हथियारों के ज़खीरे के साथ पकड़े गए 3 डकैत, कई मामले सुलझे

 

मुंबई पुलिस के हाँथ बड़ी कामयाबी लगी है. कुरार पुलिस ने एक लूटेरे गैंग को पकड़ा है जो मुंबई व गुजरात मे कार और बाइक से रात के समय हथियार के साथ घूमते थे और मौका मिलते ही लोगों को लूटपाट कर फरार हो जाते थे। पुलिस ने इन लूटेरों के पास से एक कार, एक बाइक, 15 लाख कैश, एक देशी कट्टा, चॉपर, तलवार, मोबाइल, लाल मिर्ची पावडर, रस्सी और जिंदा कारतूस बरामद की हैं।

इस गैंग के लोग मुंबई व गुजरात के हाई प्रोफाइल इलाके में वीआईपी की तरह गाड़ियों में डुप्लीकेट नम्बर लगाकर घूमते हैं। और राह चलते कोई मिल जाता हैं तो पहले उसके आंखों में लाल मिर्च पॉवडर डालकर उसे लूट लेते हैं। यह अगर कोई घर बंद हैं तो वहाँ जाकर हथियार के दम पर लूटपाट करते थे।

जोन 12 के डीसीपी डॉ विनय कुमार राठौर ने बताया कि, 13 अप्रैल की देर रात 12 से 1 बजे के करीब कुरार पुलिस को सूचना मिला कि कुछ संदिग्ध लोग गाड़ियों के साथ दिंडोशी इलाके में काफी देर से घूम रही हैं और उनके पास हथियार भी देखें गए हैं। जानकारी मिलने के बाद कुरार पुलिस के एपीआई गोरखनाथ घार्गे और पीएसआई जिनपाल वाघमारे की टीम वहाँ पहुँच कर सुबह के करीब तीन बजे गैंग के तीन लोगों को रंगे हाथों धर दबोचा जबकि एक आरोपी भागने में कामयाब हो गया।

पुलिस ने बताया कि, यह गैंग मुंबई में किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए आये हुए थे लेकिन इसके पहले की यह लोग किसी बड़ी घटना को अंजाम देते थे। पुलिस उनकों रंगे हाथों गिरफ्तार कर ली।

डीसीपी ने बताया की पहला आरोपी प्रतीक प्रवीण पाणवेकर (20), दूसरा आरोपी विकास राजू घुमाने (24), और तीसरा विशाल तनवानी (25), नाम के तीनों लूटेरों को गिरफ्तार करने के बाद जब पूछताछ किया गया तो पुलिस को पता चला कि इन्ही लोगो ने कुरार इलाके में 6 अप्रैल को एक पीड़ित से 15 लाख रुपये लूट लिए थे।

पकड़े गए सभी आरोपी और यह गैंग गुजरात के छारा अहमदाबाद के रहने वाले हैं। और इनके खिलाफ गुजरात व मुंबई में कुल अब तक 17 लूटपाट की घटनाओं का अंजाम देने का मामला सामने आया हैं। जिनमे से तीन नवी मुंबई और एक कुरार पुलिस थाने के अंतर्गत हुआ हैं। फिलहाल कुरार पुलिस पकड़े गए तीनो आरोपियों के पास से लूट के 100% माल बरामद कर एक बड़ी कामयाबी हासिल की हैं।


Close Bitnami banner
Bitnami