VIDEO: एक ही झटके में बिखर गया पूरा परिवार, ट्रेन की चपेट में आए चार भाई

सोमवार की शाम चव्हाण परिवार के लिए बहुत ही मनहूस साबित हुआ. एक ही परिवार के चार बेटों की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गयी. हादसा सुबह करीब 5:30 बजे के आस पास हुआ है. चारों भाई चचेरे हैं और कणकवली के एक ही परिवार के थे

पुलिस के मुताबिक, पेशे से ड्राइवर सागर चव्हाण कणकवली से छुट्टी बिताकर मुंबई लौटा था. वो कांदिवली में अपनी माँ के साथ रहता है. अपने साथ वो अपने तीन चचेरे भाई साईप्रसाद, दत्तप्रसाद और मनोज को भी मुंबई घुमाने लाया था. सबकी गर्मी की छुट्टियां चल रहीं थी. चारों ने दादर से बोरीवली के लिए लोकल ट्रेन पकड़ी और जैसे ही कांदिवली के पास सिग्नल पर ट्रेन रुकी चारों उतर गए. क्यूंकि सागर का घर वहां से पास में ही था. सागर ने भाइयों के साथ शॉर्ट कट लेना चाहा और वो भाइयों के साथ ट्रैक पर कूदकर पटरी पार करने लगा. लेकिन किसी का भी ध्यान दूसरी तरफ से आ रही फ़ास्ट लोकल पर नहीं पड़ी और सभी ट्रेन की चपेट में आ गए. बाद में उन्हें अस्पताल पहुँचाया गया लेकिन सबकी मौत हो गयी.

इस वक़्त पूरे परिवात में शोक और मातम है. परिवार चारों भाइयों की मृत देह कणकवली अपने गाँव चले गए. लेकिन इस घटना ने एक बार फिर ये साबित कर दिया है की हर बार शार्ट कर्ट सही नहीं होता है. कई बार जल्दबाज़ी के चक्कर में लोग अपनी जान तक गँवा देते हैं.


Close Bitnami banner
Bitnami