खौफनाक है इस खुनी माँ की कहानी, अपने ही जिगर के टुकड़े को …

ऐसे कई मामले सामने आए हैं जहाँ लोग बेटे की चाह में बेटियों को मार डालते हैं. लेकिन महाराष्ट्र में एक माँ ने बेटी पाने की चाहा में अपने दस महीने के बैक्जे की बड़ी बेरहमी से हत्या कर डाली. उसने हत्या कर शव को ठिकाने भी लगा दिया था. मगर डॉग स्क्वाड के कुत्ते ने उसकी पोल खोल दी.

पुलिस के मुताबिक, गंगापुर तहसील के पिंपरखेड़ा निवासी 22 वर्षीय वेदिका रामेश्वर एरंडे चितेगाव के भागजीनगर में रहती है और वो अपने माता पिता से मिलने के लिए पैठणखेड़ा आई थी। शनिवार की शाम को वेदिका अपने 10 महीने के बच्चे प्रेम परमेश्वर एरंडे के साथ घर में सो गई। इस बीच आधी रात को जब वेदिका नींद खुली तब बच्चा प्रेम पास में नहीं था। उसने तुरंत अपने माता पिता को बच्चा नहीं दिखाई देने की बात कही इसके बाद वेदिका और उसके माता-पिता बच्चे को तलाश करने लगे।

काफी तलाश के बाद भी जब लड़का नहीं मिला तो उन्होंने बिडकिन पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई। जिसके बाद सहायक पुलिस निरीक्षक पंडित ने तुरंत आधी रात को ही घटनास्थल पर पहुंचे तहकीकात की। आखिरकार डॉग स्कॉड को बुलाकर बच्चे को तलाशने का काम शुरू किया गया तो डॉग स्कॉड का कुत्ता घर में ही चक्कर लगाने लगा। कुत्ते को घर में चक्कर लगाते देख डॉग स्कॉड ने घर के परिसर में खोले प्लास्टिक के ड्रम का ढक्कन खोला तो ड्रम के पानी में बच्चे का शव पड़ा हुआ था।

पुलिस ने तुरंत शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए बिडकिन के सरकारी अस्पताल में भेजा। मामले की जांच के लिए राधिका को पुलिस ने अपनी हिरासत में लिया। जिसके बाद जब राधिका से सख्ती से पूछताछ की गयी तो, उसने ने बताया के वो पहले से ही इस बच्चे को पसंद नही करती थी। राधिका को लड़के की जगहा लड़की चाहिए थी। इसलिए उसने इस 10 महीने के लड़के को पानी के ड्रम में डाल दिया था। जिसके बाद इस बच्चे की मौत हो गई फि पुलिस ने राधिका के खिलाफ हत्या (302) का मामला दर्ज किया गया है। राधिका को अदालत में पेश किया गया था जिसके बाद अदालत ने उसे 2 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा है।


Close Bitnami banner
Bitnami