पति की लाश शहर में स्कूटर पर घुमा रहा था क़ातिल, पत्नी मेकअप कर थाने पहुँच गयी

मुंबई से सटे पालघर में एक महिला ने अपने पुराने आशिक और उसके दोस्तों के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी है। हत्या के बाद क़ातिल लाश को ठिकाने के लिए एक स्कूटर पर घूम रहे थे। लेकिन इस बीच पुलिस ने दो आरोपियों को शुक्रवार को लाश को ठिकाने लगाते वक्त देख लिया। और क़त्ल का ये पूरा मामला परत दर परत खुलता चला गया। क़त्ल की जो वजह सामने आई है वो हैरान करने वाली है, पत्नी का एक बॉयफ्रेंड था जिसके बारे में पति को जानकारी लग गयी थी। इसके बाद से ही महिला का पति उस पर शक करता था, जिसे लेकर दोनों के बीच अक्सर लड़ाई होती थी। इससे परेशान होकर महिला ने उसकी हत्या कर दी।

पालघर पुलिस ने महिला अश्विनी और उसके बॉयफ्रेंड सहित कुल तीन लोगों के साथ गिरफ्तार किया है। महिला ने इस क़त्ल की पूरी साज़िश अपने आशिक़ के साथ मिलकर रची थी। पलिस ने तीनों को शनिवार को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक, क़त्ल के बाद आरोपी लाश को एक स्कूटर पर लेकर निकले थे और पालघर के नजदीक विरार में दफन करने की कोशिश कर रहे थें।तभी पेट्रोलिंग पर घूम रही पुलिस को स्कूटर वाले लोगों पर शक हुआ, जब स्कूटर रोक कर जाँच की गयी तो एक बोते में लाश थी।जिसकी पहचान योगेश रावत के तौर पर हुई।

तफ्तीश में सामने आया है की योगेश को ये पता चल गया था की पत्नी अश्विनी का किसी के साथ अफेयर चल रहा है। इसी को लेकर दोनों वसई में रहने वाले पति पत्नी में अक्सर लड़ाई होती रहती थी। रोज-रोज की लड़ाई से परेशान होकर महिला ने योगेश की हत्या की साजिश रची। इसके लिए आरोपी महिला ने अपने पुराने आशिक और उसके दो दोस्तों से मिली। प्लान के मुताबिक तीनों आरोपी उस वक्त महिला के घर आएं, जब योगेश सो रहा था। जिसके बाद उन्होंने योगेश पर हमला बोल दिया। आरोपी महिला ने अपने पति योगेश का कत्ल अपने दुपट्टा से गला घोंटकर किया। पुलिस के मुताबिक योगेश की मौत के बाद उन्होंने उसे कपड़े में लपेटा। जिसके बाद दो आरोपियों को योगेश की लाश ठिकाने लगाने का काम दिया गया।

दोनों आरोपी योगेश की लाश स्कूटर पर लेकर निकले और उसे विरार के पास दफन करने के लिए निकले थे। उसी वक्त पुलिस के पेट्रोलिंग टीम की नजर उनपर पड़ी। जिसके बाद पुलिस उनका पीछा किया, हालांकि वे वहां से भागने में कामयाब हुए। लेकिन कुछ दूर जाने के बाद ही उनका स्कूटर फिसल गया और वो गिर पड़े। वे योगेश की लाश को वहीं छोड़कर भाग गए थे। पुलिस ने योगेश की मौत की खबर उसकी पत्नी को दी। शुरुआती पूछताछ में योगेश की पत्नी ने उल्टी सीधी कहानियां सुनाई लेकिन जल्द ही उसने पुलि को सारी सच्चाई बता दी। जिसके बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक आरोपी पत्नी ने योगेश की हत्या के लिए अपने पुराने प्रेमी और उसके साथियों को 1.5 लाख रुपए की सुपारी दी थी। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ हत्या और साजिश रचने के मामला दर्ज कर लिया है।


Close Bitnami banner
Bitnami