आखिर क्यों ? एक्टर मनोज बाजपाई के पीछे पड़ गए थे लोग

इन दिनों देश में एक नया ट्रेंड सा शुरू हो गया है किसी घटना पर लोग अब सवाल सरकार से नहीं करते हैं। बल्कि वो चाहते हैं की सारे मुद्दों पर बॉलीवुड से जुड़े लोग धर्म के हिसाब से जवाब दें, ताकि ट्रोल आर्मी ये आकलन कर सके की वो किसके समर्थन में है। यानी उनकी केटेगरी तय की जा सके की वो देशभक्ति वाले कतार में हैं या उन्होंने देशद्रोहियों वाला झंडा उठा रखा है। ये सब तय होता है सोशल मीडिया पर।

ऐसे ही एक आकलन के शिकार बने बॉलीवुड एक्टर मनोज वाजपेयी जिन्हें लोग अचानक ट्रोल करने लगे। उनसे उनके धर्म उनकी जात पर सवाल किया जाने लगा। लेकिन मनोज ने उन्हें जो जवाब दिया उन्हें ट्रोल करने वाले ही उनकी तारीफ करने लगे। गुरुवार को ट्विटर पर कुछ लोगों ने मनोज बाजपाई को ट्रोल करते हुए कुछ लोगों ने उनसे गाजियाबाद में एक मदरसे में हुए बलात्कार को लेकर उनकी चुप्पी पर सवाल उठाया था।

 

लोगों ने मनोज बाजपाई पर तंज कसते हुए उन्हें अपने ट्वीट में टैग कर कहा कि बलात्कार के खिलाफ आवाज उठाते हुए ट्रेंड के हिसाब से नहीं चलना चाहिए, बल्कि इंसानियत के हिसाब से चलना चाहिए। इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए मनोज बाजपाई ने लिखा कि मैं इस जघन्य अपराध की घोर निंदा करता हूं और आगे भी करता रहूंगा। पीड़िता का धर्म चाहे कोई भी हो, हमारा विरोध हमेशा रहेगा। समस्या ये है कि आपका विरोध हमसे है अपराध से नहीं। आइए इस जघन्य अपराध से लड़ते हैं।

मनोज के इस जवाब से उन्हें ट्रोल करने वाला शख्स बेहद प्रभावित हो गया। और उसने उल्टा मनोज की तारीफ करते हुए लिखा, धन्यवाद बाजपाई जी, आपके प्रति मेरे ह्रदय में बहुत सम्मान है…जो कि और ज्यादा बढ़ गया है। हम सभी को मिलकर इस तरह के मामलों में साथ आकर आवाज उठानी चाहिए और अपने देश से इस बुराई को दूर करना चाहिए।


Close Bitnami banner
Bitnami