HAPPY BIRTHDAY KAPIL: सिंगर बनने की चाह लिए कपिल कैसे बन गए एक कॉमेडियन

किसी को रुलाना बहुत आसान हैं लेकिन किसी के चेहरे पर मुस्कराहट ले आना बहुत मुश्किल काम होता हैं. कुछ बहुत कम लोगों में ये हुनर होता हैं जो किसी को हंसा पाते हैं. कॉमेडी तो हर कोई करता है लेकिन जिसके व्यंग से दर्शक ठहाके मारकर हंसने लगे ऐसा तो कोई हजारों में एक होता हैं. कपिल शर्मा उन्ही होनहार लोगों में से एक हैं जिसे देखने के लिए दर्शक दूर-दूर से आते हैं.

कपिल ने अपना नाम देश में नहीं विदेशों में भी ऊंचा किया हैं. पंजाब के एक छोटे से शहर का ये लड़का अपने कॉमेडी के बलबूते एक अलग मुकाम को हासिल कर लेगा खुद उसने भी नहीं सोचा था.

1. कपिल शर्मा के पिता के निधन 2004 में हो गया था. पंजाब पुलिस में वो हेड कांस्टेबल थे. पिता के निधन के बाद घर की सारी जिम्मेदारियां उनपर आ गई थीं, साथ ही बहन की शादी भी करनी थीं.

2. कपिल कभी भी कॉमेडियन या एंकर नहीं बनना चाहते थे उनका सपना हमेशा से एक सिंगर बनने का था.

3. मुंबई में आने से पहले कपिल पीसीओ और कपड़े की मिल में काम कर चुके हैं. पैस कमाने के लिए कपिल सॉफ्टड्रिंक भी बेच चुके हैं.

4. कॉमेडी शो द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज के ऑडिशन में कपिल को रिजेक्ट कर दिया गया था. बाद में उन्हें कॉल करके फिर से बुलाया गया.

5. कपिल को सबसे बड़ा ब्रेक ‘द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज’ शो से मिला. 2007 में उन्होंने 10 लाख रुपये की प्राइज मनी के साथ इस शो को जीता.

6. जीती रकम से कपिल ने बड़ी धूम धाम से बहन की शादी की.

7. ‘कॉमेडी सर्कस’ के बाद कपिल को अपना पहला कॉमेडी शो मिला, जो छोटे पर्दे का हिट शो था. शो में बड़े-बड़े स्टार्स अपनी फिल्मों को प्रमोट करने आते थे.

8. शो की सफलता के बाद कपिल को फिल्मों के भी ऑफर आने लगे. उन्होंने इसे एक चुनौती की तरह लिया और अब्बास मस्तान द्वारा निर्देशित फिल्म ‘किस किस को प्यार करूं’ से फिल्मी करियर की शुरुआत की.

9. कपिल को थिएटर काफ़ी पसंद था. एक्टिंग और कॉमेडी में उन्होंने करियर बनाने की ठान ली. अमृतसर में कपिल ने थिएटर ज्वाइन किया और बाद में दिल्ली आ गए.

10. सुनील ग्रोवर के साथ फ्लाइट में हुए विवाद के बाद ‘फैमिली टाइम विथ कपिल शर्मा’ से एक बार फिर कॉमेडियन ने छोटे पर्दे पर वापसी की हैं.


Close Bitnami banner
Bitnami