नहीं रहे बॉलीवुड के ट्रेजेडी किंग दिलीप कुमार, 98 साल की उम्र में निधन

बॉलीवुड के मशहूर कलाकार दिलीप कुमार (Dilip Kumar) का 98 साल की उम्र में निधन हो गया है. उन्होंने मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में आखिरी सांस ली. दिलीप कुमार लंबे समय से बीमार चल रहे थे. हाल ही में उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने की समस्या के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

बीते दिनों दिलीप कुमार के दोनों भाई असलम खान और एहसान खान का भी कोरोना संक्रमण की वजह से निधन हो गया था. दिलीप कुमार का जन्म 11 दिसंबर साल 1922 को पाकिस्तान के पेशावर में हुआ था. पिता मुंबई आ बसे थे. इसीलिए दिलीप कुमार भी मुंबई आ गए और उन्होंने फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया.

दिलीप कुमार का असली नाम युसूफ खान था. लेकिन उन्हें बॉलीवुड में दिलीप कुमार नाम से ही पहचान भी मिली और शोहरत भी 1944 में आई फिल्म ‘ज्वार भाटा’ से दिलीप कुमार ने अपने अभिनय की शुरुआत की थी लेकिन उन्हें फिल्म अंदाज से सफलता मिली जो साल 1949 में आई थी और फिर दिलीप कुमार ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा एक के बाद एक उन्होंने दर्जनों फिल्मों में काम किया और अपने अभिनय से दर्शकों के दिलों में अमिट छाप छोड़ कर चले गए.


फिल्म शक्ति, राम और श्याम, लीडर, कोहिनूर, नया दौर, देवदास, आजाद और दाग जैसी फिल्मों के लिए उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार भी मिला, फिल्म मुगले ए आज़म में दिलीप कुमार का अभिनय बेहद सराहनीय था और यह फिल्म न सिर्फ दिलीप कुमार के लिए बल्कि बॉलीवुड के लिए भी एक मील का पत्थर साबित हुई.

1980 में उन्हें मुंबई का शरीफ सम्मान से नवाजा गया 1995 में उन्हें बॉलीवुड का सबसे बड़ा अवार्ड दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया 1998 में उन्हें पाकिस्तान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान निशान-ए-इम्तियाज भी प्रदान किया गया. बॉलीवुड के अलावा दिलीप कुमार ने राजनीति ने भी अपना हाथ आजमाया और राज्यसभा सदस्य भी रह चुके थे.

दिलीप कुमार के निधन से बॉलीवुड में शोक की लहर है. फ़िल्म अभिनेता अजय देवगन, अक्षय कुमार सहित अन्य हस्तियों ने दिलीप कुमार को श्रधांजलि अर्पित की है.


Close Bitnami banner
Bitnami