तो क्या श्री रेड्डी के लीक से डरा टॉलिवुड ? खुद को बचाने के लिए हटाया बैन

कास्टिंग काउच के खिलाफ अर्धनग्न तरीके से विरोध जताने वाली टॉलीवूड एक्ट्रेस श्री रेड्डी ने कल अपने और कुछ डायरेक्टर्स के बीच हुई निजी बातचीत को लीक कर दिया था। साथ ये भी एलान किया था ऐसे कई और लोग हैं जिन्हें लेकर वो जल्द ही खुलासे करने वाली हैं। उनमे से ज़्यादातर वो लोग थे जो आर्टिस्ट असोसिएशन के बड़े पदों पर बैठे हैं और जिन्होंने ने उनपर बैन लगाया है। श्री रेड्डी के इस एलान के बाद महज़ 24 घंटे भी नहीं गुज़रे थे मूवी आर्टिस्ट असोसिएशन ने श्री रेड्डी पर लगाया गया बैन हटा लिया है। अब ये सवाल पुछा जा रहा है की क्या ये बैन इस लिए हटा दिया गया क्यूंकि श्री मूवी आर्टिस्ट असोसिएशन के लोगों को बेनक़ाब करने वाली थीं ?

लेकिन इन आरोपों के उलट मूवी आर्टिस्ट असोसिएशन का अलग ही जवाब है। इससे पहले इस पूरे मामले को लेकर तेलांगाना सरकार और केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) के नोटिस भेजकर सवाल पुछा था। कहा जा रहा है कि इसी नोटिस की वजह से फिलहाल के लिए मूवी आर्टिस्ट असोसिएशन ने तेलुगू ऐक्ट्रेस श्री रेड्डी पर से बैन हटा लिया है।

श्री रेड्डी ने कास्टिंग काउच के खिलाफ विरोध जताते हुए अपने कपड़े उतार कर विरोध जताया था। जिसके बाद मूवी आर्टिस्ट असोसिएशन (MAA) ने उनकी सदस्ता पर बैन लगा दिया था। असोसिएशन ने अपने 900 सदस्यों पर श्री रेड्डी के साथ काम करने को भी प्रतिबंधित किया था। लेकिन NHRC से मिले नोटिस के बाद MAA के प्रेज़िडेंट सिवाजी राजा और अन्य सीनियर नेता, प्रड्यूसर्स काउंसिल प्रेज़िडेंट थम्मारेड्डी भारद्वाज और कुछ अन्य लोगों के नेतृत्व में गुरुवार शाम को जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई। जिसमे ये कहा गया कि, ‘हम सोमवार को लिए गए उस फैसले को वापस लेते हैं, जिसमें उन्हें मूवी आर्टिस्ट असोसिएशन की सदस्यता न देने की बात कही थी। हम उन्हें सदस्यता के लिए आवेदन भरने की सलाह देते हैं। स्क्रीनिंग कमिटी अपनी तिमाही मीटिंग में उचित फैसला लेगी। हम उस फैसले को भी वापस लेते हैं, जिसमें 900 सदस्यों को उनके साथ काम करने को लेकर प्रतिबंधित किया गया था. वे उनके साथ ऐक्टिंग करने के लिए आजाद हैं।’ उन्होंने आगे यह भी कहा, ‘श्री रेड्डी हमारी बहन हैं। ‘

क्यों किया था न्यूड प्रदर्शन क्या था मामला

टॉलीवूड एक्ट्रेस श्री रेड्डी ने पिछले दिनों सरेआम अपने कपड़े उतारकर कास्टिंग काउच का मुद्दा उठाने की कोशिश की। उनका विरोध था की तेलुगू फिल्म में काम के बदले कई निर्माताओं और निर्देशकों ने मेरा यौन उत्पीड़न किया, लेकिन काम नहीं दिया। तीन फिल्मों में काम करने के बावजूद मूवी आर्टिस्ट असोसिएशन (एमएए) की मेंबरशिप नहीं दी गई।


Close Bitnami banner
Bitnami