एक लाख में माँ ने किया बेटी के कौमार्य का सौदा

मुंबई से भायंदर से ये बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहाँ पैसे की चाह में एक माता कुमाता बन बैठी। उसने अपनी ही सगी नाबालिग बेटी के कौमार्य का एक लाख रुपया में सौदा कर डाला। एंटी ह्यूमन ट्रैफकिंग सेल ने घर में छापा मारकर पीड़िता की माँ-बहन और एक दलाल को गिरफ्तार कर लिया।

एंटी ह्यूमन ट्रैफकिंग सेल के इंस्पेकरर संजय बांगर के मुताबिक़, एक एनजीओ के ज़रिये उन्हें इस पूरे सौदे की जानकारी मिली थी। दो महिला और एक पुरुष  मिलकर नाबालिग लड़कियों का सौदा करते हैं। ये लोग मजबूर और बेबस लड़कियों को अपने चंगुल में फसकर बूढ़े और अमीर लोगों से बेचा करते हैं। इसी सुचना के आधार एंटी ह्यूमन ट्रैफकिंग सेल ने जाल बिछाया और इन लोगों को रंगे हाँथ गिरफ्तार किया। 

हमने फर्जी ग्राहक के माध्यम से महिला से संपर्क किया और नाबालिग लड़की की मांग की। महिला ने 14 साल की एक लड़की मुहैया कराने के लिए तैयार हो गई। उसके कौमार्य का सौदा एक लाख रूपये में तय किया। लेकिन जो बात सबसे ज़्यादा चौकाने वाली थी वो ये की सौदा करने वाली दो महिलाओं में से एक उस नाबालिग की माँ थी जबकि दूसरी बड़ी बहन। 

फिलहाल पुलिस ने नाबालिग लड़की को छुड़ाकर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। 


Close Bitnami banner
Bitnami