मोहिनी है ये आँखें, जो भी इस हसीना के जाल में फंसा निकल नहीं पाया

देखने में बाला कि खूबूसरत मासूम और भोली भाली।लेकिन  इस चेहरे के पीछे कि जो कहानी सामने आयी है उसे सुनकर हर कोई दंग है। कहानी तो आपको बाद में बताएँगे, पहले इस लड़की के बारे में जान लीजिए। नाम शिखा तिवारी है और ये जयपुर कि नामी डी जे हैं। लोग इन्हें डीजे अदा के नाम से भी जानते हैं। इन दिनों डीजे अदा कि मुंबई में खूब धूम मची थी। मुंबई का हर पांच सितारा होटल इनका पर्फोमन्स कराने को बेताब था और डीजे अदा भी लाखों रूपये लेकर मुंबई के अलग अलग होटलों में अपना हुनर दिखा रही थी। लेकिन यहीं उसने एक गलती कर दी उसने अपना एक पर्फोमन्स को फेसबुक लाइव किया और अब वो सलाखों के पीछे पहुँच गयी है। 

shikha (13)

डीजे अदा पर बेहद संगीन आरोप हैं और जयपुर के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने मुंबई पुलिस कि मदद से मुंबई से गिरफ्तार किया है। डीजे अदा उर्फ़ शिखा जयपुर के एक डॉक्टर को ब्लैकमेल कर के 1 करोड़ 5 लाख रुपए लूटने का आरोप है। आरोप है कि शिखा ने अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर एक बड़ा आपराधिक षड्यंत्र रचते हुए जयपुर के डॉ.सुनीत सोनी पर रेप का झूठा केस दर्ज कारकार करोड़ों रुपए वसूले थे। 

पुलिस के मुताबिक़, देखने में आपको ये 21 साल की लड़की डीजे अदा उर्फ़ शिखा बेहद मस्सों लगे लेकिन ये एक बहुत बड़े ब्लैकमेलिंग रैकेट का हिस्सा थी। लड़की अपने कुछ दोस्तों के साथ मिलकर बाकायदा ब्लैकमेलिंग का गिरोह चला रही थी, इसी कि तरह खूबसूरत दिखने वाले अब तक 5 लडकियां अब तक गिरफ्तार हो चुकी हैं। इनके इलावा पुलिस ने इस गिरोह के  कुल 33 लोगों की अब तक गिरफ्तारी किया है। लेकिन ये लड़की उनकी पकड़ से दूर थी। 

जयपुर एसओजी के एडीजी उमेश मिश्रा के मुताबिक़ अब तक कि जांच में 20 करोड़ के रैकेट का खुलासा हुआ है। डीजे अदा इस रैकेट कि अहम् हिस्सा थी। इसकी गिरफ़्तारी के लिए कई टीमें काम कर रही थीं मगर ये हाँथ नहीं आयी। इसी बीच हमें ये लड़की मुंबई के होटल में परफॉर्म करती हुई दिखाई दी, जिसके बाद मुंबई पुलिस कि मदद से इसे गिरफ्तार कर लिया गया।

कैसे एक डॉक्टर से कि करोड़ों कि वसूली ! 

डीजे अदा उर्फ़ शिखा और उसके गिरोह के लोग ऐसे लोगों को तलाशते थे जो बेहद अमीर और इज़्ज़तदार हों, जो आसानी से बदनामी के डर से इनकी बात मान लें। इन्ही में से एक थे जयपुर के डॉक्टर सुनीत सोनी, जिनपर शिखा तिवारी ने पहले तो अपने जाल में फंसाया और फिर उन्हें बलात्कार के झूठे केस में फंसा दिया । बाद में केस वापस लेने के ऐवज़ में उनसे 1 करोड़ 5 लाख रुपए हासिल कर फरार हो गई। शिखा तिवारी ने प्लान के मुताबिक़ डॉक्टर सुनीत के पास हेयर ट्रांसप्लांट के बहाने से गई थी और उन्हें अपने हुस्न के जाल में फंसकर उनसे दोस्ती कर ली थी। एक दिन वो डॉक्टर के साथ पुष्कर घूमने गईऔर वहीँ उसने डॉक्टर से 2 करोड़ की मांग की और नहीं देने पर मुकदमा दर्ज करने की धमकी देने लगी। जब डॉक्टर ने पैसे देने से मन किया तो उन्हें झूठे केस में फंसा दिया।

जयपुर पुलिस को डीजे अड्डा कि तलाश पिछले 5 महीने से थी लेकिन लाख कोशिश के बाद भी उससे जुडी कोई भी जानकारी सामने नहीं आ रही थी। यहीं शिखा उर्फ़ डीजे अदा ने एक भूल कर दी और उसने एक फेसबुक लाइव किया. उसी लाइव के ज़रिये पुलिस को उसकी लोकेशन सामने आया और वो पकड़ी गई​​।


Close Bitnami banner
Bitnami