आश्रम का गेट गिरने से युवक की मौत, गुस्साए परिजनों ने किया आश्रम में तोड़फोड़

मुंबई से सटे भायंदर में संत निरंकारी बाबा के आश्रम का गेट से एक युवक की मौत हो गयी। घटना बीती रात करीब एक बजे के आस पास की है। घटना के बाद आश्रम वालों ने आननफानन में पंकज सरोज 19 को अस्पताल में ले गए। लेकिन इलाज के द्वारां डॉक्टर ने पंकज को मृत घोषित कर दिया।

जब अगले दिन सुबह दस बजे पंकज के परिजनों को इसकी सूचना लगी तो गुस्से में आकर परिजनों ने आश्रम के अंदर घुसकर जमकर तोड़ फोड़ की। पंकज के एक दोस्त ने बताया की पंकज हर रोज आश्रम में पढ़ाई और सत्संग सुनने जाता था।मगर कल रात 1 बजे के करीब आश्रम से बाहर जाने वाली एक ट्रक के लिए जब पंकज दरवाजा खोला था और ट्रक के निकलने के बाद गेट बंद कर रहा था, तभी ट्रक पिछे आ गया जिसकी वजह से लोहे का बड़ा गेट उसके ऊपर गिर गया जिसकी वजह से उसकी दबने से मौत हो गई।

वही आश्रम के लोगों का कहना है कि घटना की जानकारी मिलने के हम चरण युवक को अस्पताल ले गए. लेकिन वहा पर उसकी मौत हो गयी। जिसके बाद युवक की डेड बॉडी को आश्रम में लाये और उसके घरवालों को इसकी सूचना दी। जिसके बाद गुस्साए परिजन करीब 200 लोगों के साथ आश्रम में आये और तोड़ फोड़ शुरू कर दी। फिलहाल इस मामले में पुलिस ने अबतक किसी के भी ऊपर मामला दर्ज नहीं किया है।

 


Close Bitnami banner
Bitnami