अचानक FTII पहुंचे अनुपम खेर, छात्रों के साथ लाइन लगाकर खाया खाना

काफी दिनों बाद फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट (एफटीआईआई) के कैंपस का नज़ारा बदला बदला सा था। इस बार नए अध्यक्ष के आगमन में कोई विरोध प्रदर्शन नहीं हुआ। बल्कि नए अध्यक्ष एक्टर अनुपम खेर जब अचानक फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट (एफटीआईआई) के कैंपस पहुंचे तो उन्हें देखकर छात्र भी दंग थे। कैंपस में पहुंचते ही अनुपम खेर ने अपनी कार पार्क की और एडमिनिस्ट्रेशन को ये इच्छा जताई की वो पहले खाना खाना चाहते हैं। इसके बाद वो सीधे हॉस्टल के डाइनिंग रूम हॉल में जा पहुंचे और स्टूडेंट्स के साथ लाइन में लगकर खाना लिया। अनुपम ने नए अध्यक्ष वाकई शेखी बघारने के बजाय छात्रों के साथ डाइनिंग टेबल पर बैठ गए और हाँथ से ही खाना शुरू कर दिया। खाने की मेज़ से उठकर वो सीधे क्लास रूम में गए और वहां उन्होंने एक्टिंग की क्लास भी ली। अभिनेता अनुपम खेर को गजेंद्र चौहान की जगह एफटीआईआई का अध्यक्ष बनाया गया है।

अनुपम खेर के इस बर्ताव को देख कर छात्रों में भी एक संतुष्टि दिखाई दी। उन्होंने माना की ऐसे संसथान के लिए अनुपम खेर जैसे वरिष्ठ अभिनेता से ऐसी ही उम्मीद थी। वो चाहते हैं की नए अध्यक्ष उनकी बात सुनें और सरकार तक पहुंचाए। वो यहाँ कोई राजनीति के लिए नहीं आये हैं बल्कि उनके कुछ जायज़ मांग हैं जिन पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

छात्रों की बातें सुनने के नाद अनुपम खेर ने भी माना कि, मुझे इन छात्रों द्वारा उठाई मांगें काफी वाजिब लग रही है। मैं और एफटीआईआई कि तरफ से यही कोशिश होगी कि इसे जल्द हल किया जाए। एक साथ सभी समस्याओं का समाधान इतनी जल्दी मुमकिन नहीं है। मुझे थोड़ा वक़्त दिया जाए मैं अपनी तरफ से हर कोशिश करूँगा।

इससे पहले अनुपम के एफटीआईआई के अध्यक्ष के तौर पर चुने जाने के बाद एफटीआईआई के स्टूडेंट्स ने उन्हें एक ओपन लेटर लिखकर कई मुद्दों को उठाया था। छात्रों द्वारा लिखे ओपन लेटर में इंस्टीट्यूट की ओर से शुरू किए गए शॉर्ट टर्म कोर्स को लेकर विरोध जताया गया था।


Close Bitnami banner
Bitnami