बड़ा खुलासा ! भ्रष्ट हैं नवी मुंबई के वकील

अब तक वकीलों के बारे में यही सुना गया है की या तो वो किसी को इन्साफ दिलाने की लड़ाई लड़ते हैं या किसी गुनेहगार को सजा दिलाने के लिए। कभी सुना है की वकील भ्रष्ट चोर और ना जाने क्या क्या हैं ? ये आरोप हम और आप लगाएं तो शायद ये काले कोर्ट वाले हमें अदालत तक घसीट लाएं। लेकिन ये आरोप कोई और नहीं बल्कि इनकी ही बिरादरी लगा रही है। आरोप है की नवी मुंबई के न्यायलाय में एक नहीं दो नहीं बल्कि डेढ़ सौ से भी अधिक वकील भ्रष्टाचार में लिप्त हैं।  नवी मुंबई में 152 वकीलों ने भ्रष्ट वकीलों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। और प्रशासन से मांग की है क़ि जल्द से जल्द से आपराधिक पृष्ट्भूमि से तालुख रखने वाले वकीलों पर जल्द से जल्द कार्यवाही कर उन्हें नियंत्रण में लाएं।152 वकीलों ने इसकी शिकायत मुख्य न्यायाधीश ,ठाणे जिला न्यायाधीश सहित नवी मुंबई पुलिस आयुक्त से की है।

नवी मुंबई के बेलापुर कोर्ट के 152 वकीलों ने अपने शिकायत में आरोप लगाया है क़ि बेलापुर कोर्ट में पुलिस अधिकारी अपने कुछ वकीलों के साथ हाथ मिला कर काले करतूत को अंजाम दे रहे है। वो पुलिस के साथ मिलकर कर रहे हैं ज़मानत और गिरफ्तारी का खेल खेल रहे हैं। शिकायत में कहा गया है कि,  पुलिस जो आरोपी पकड़ती है उन्हें कोर्ट में पेश करते समय निर्देश देती है की वो उनके ही बताये वकील को संपर्क करे। अगर वो उनका कहा वकील करता है तो उसे ज़मानत मिलने की पूरी उम्मीद रहेगी।  और तो और वो अदालत में आरोपियों के खिलाफ सख्त नहीं होगी।

शिकायतकर्ता वकीलों में शामिल एड विनोद गंगवाल ने बताया कि, इन पुलिस अधिकारियो ने हर कोर्ट में वकीलों  के साथ हाथ मिला रखा है। पुलिसवाले जितना केस इन वकीलों को देते है उसमें उनका कमीशन फिक्स होता है । इस कमीशन के चक्कर में उन गरीब अपराधियों को न्याय नही मिल पाता। इसके कारण इस तरह के वकीलों और पुलिस अधिकारियो पर कार्यवाई होना आवश्यक है।


Close Bitnami banner
Bitnami